Saturday , December 16 2017

जश्न मीलादुन्नबी(सल.) में आदाबो एहतेराम ज़रूरी

राइचोर,22 जनवरी: मुहम्मद नूर निगरान कार जामा मस्जिद सराफा बाज़ार राइचोर ने अपने सहाफ़ती बयान में शह्रे उन से अपील की है कि वो जश्न मीलादुन्नबी(सल.) के जलसों जलूसों और दीनी रियालियों के मौक़े पर अदबो एहतेराम को मलहफूज़ रखें। सरकार दो आलम

राइचोर,22 जनवरी: मुहम्मद नूर निगरान कार जामा मस्जिद सराफा बाज़ार राइचोर ने अपने सहाफ़ती बयान में शह्रे उन से अपील की है कि वो जश्न मीलादुन्नबी(सल.) के जलसों जलूसों और दीनी रियालियों के मौक़े पर अदबो एहतेराम को मलहफूज़ रखें। सरकार दो आलम की मुहब्बत में दरूद-ओ-फ़ातिहा ख़वानी के इनइक़ाद के साथ पाबंद डिस्प्लेनस और नज़म-ओ-ज़बत का भी ख़्याल रखें। क़ुरआनी आयतों को बेहुर्मती से बचाएं। मीलादुन्नबी के मौक़े पर नस्ब करदा सबज़ झंडियों, मक्का मुकर्रमा और मदीना मुनव्वरा के मॉडल्स को दूसरे दिन निकाल दें।

उम्मतुलमुस्लिमीन से गुज़ारिश है कि वो इन बातों को तवज्जा देकर अमल करें और साथ ही साथ राइचूर की गंगा जमुना तहज़ीब-ओ-तमद्दुन और भाई चारा का भी ख़्याल रखें। गैर ज़रूरी नारा बाज़ी से परहेज़ करें। इस्मे मुबारक का एहतेराम हर शख़्स पर लाज़िम है।

TOPPOPULARRECENT