Tuesday , July 17 2018

जहरीली शराब से मौत पर विपक्ष ने मुख्यमंत्री से मांगा इस्तीफ़ा, पूर्ण शराबबंदी पर भी उठी मांग

रांची: राजधानी रांची में  जहरीली शराब पीने से लोगों की हुई मौत पर विपक्षी दलों ने सरकार को घेरा है और मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की है. इसके अलावा दोषियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने का आग्रह किया है. वहीं भाजपा में शामिल एनडीए घटक दल के आजसू व जदयू के नेताओं ने राज्य में पूर्ण शराबबंदी की मांग की है.
झामुमो के केंद्रीय महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि मुख्यमंत्री को इस घटना की नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए खुद पर तथा अपने अधीनस्थ पदाधिकारियों पर आपराधिक मुकदमा दर्ज करने का निर्देश जारी करना चाहिए. साथ ही निष्पक्ष जांच की प्रमाणिकता को तय करते हुए तत्काल पदत्याग करना चाहिए.
प्रदेश कांग्रेस के महासचिव आलोक कुमार दूबे ने कहा है कि जहरीली शराब पीने से आम लोगों की हुई मौत  सरकार के लिए शर्मनाक है. सरकार की नाक के नीचे जहरीली शराब बेची जा रही है.  श्री दूबे ने कहा कि जिस प्रदेश की सरकार और मुख्यमंत्री स्वयं शराब बेचने का काम करेगी, उस प्रदेश में इस तरह के कारोबार फलेंगे-फूलेंगे.
प्रदेश राजद महासचिव कैलाश यादव ने जहरीली शराब पीने से हुई मौत पर कहा कि एक तरफ सरकार खुद शराब बेच रही है, वहीं दूसरी तरफ पूरा गिरोह सक्रिय है. राजद सरकार के इस फैसले का पहले से ही विरोध कर रही है.
माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद ने डोरंडा में जहरीली शराब पीने से पुलिस जवान की मौत को सरकार की नीतियों का नतीजा बताया है.
TOPPOPULARRECENT