Friday , December 15 2017

जहाँ शरीयत के क़ानून चलते हो, वहां चले जाएँ मुसलमान: आदित्यनाथ

नई दिल्ली: विवादित बयान देकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी सांसद महंत आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि मुसलमानों को भारत छोड़ कर उस देश चले जाना चाहिए जहां शरीयत कानून के हिसाब से शासन चलता हो, क्‍योंकि भारत में यह कानून नहीं चल सकता। आदित्यनाथ की यह टिप्पणी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) की टिप्पणी के जवाब में आई है। बोर्ड ने तीन बार तलाक बोल कर शादी तोड़ने को जायज ठहराते हुए कहा था कि अदालतों के जरिए भारत में शरीयत कानून बदलने की कोशिश चल रही है। आदित्यनाथ का कहना है कि भारत का शासन संविधान से चलता है न कि शरीयत कानून के हिसाब से। इससे पहले AIMPLB के सदस्य जफर जिलानी ने मुस्लिम पर्सनल लॉ (शरीयत)  में अदालतों की दखलअंदाजी का आरोप लगाया था। सुप्रीम कोर्ट ने कुछ हफ्ते पहले केंद्र सरकार से बहुविवाह, तीन तलाक और निकाह हलाला पर उसका पक्ष जानना चाहा था। जिलानी ने इसी संदर्भ में अदालती दखलअंदाजी की बात कहते हुए मांग की कि इन मामलों में केंद्र सरकार को अपना पक्ष पहले जैसा ही रखना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT