जहाँ NDMC बनने जा रही है स्मार्ट सिटी वहीँ बिजली विभाग में नहीं है एक भी होल्डर!

जहाँ NDMC बनने जा रही है स्मार्ट सिटी वहीँ बिजली विभाग में नहीं है एक भी होल्डर!

नई दिल्ली: नई दिल्ली पालिका परिषद जहां एक तरफ स्मार्ट सिटी बनने जा रही है, वहीं दूसरी तरफ नई दिल्ली पालिका परिषद के कर्मचारियों के लिए बने सरकारी क्वार्टरों में इमरजेंसी के समय में बिजली विभाग की इन्क्वारी के पास एक होल्डर तक नहीं होता है.

लाल बहादुर सदन के निवासी हामिद अली ने नई दिल्ली पालिका परिषद के गोल मार्किट स्थित बिजली विभाग की इन्क्वारी व कंट्रोल रूम में अपने घर के जीने की लाइट ख़राब होने की शिकायत दर्ज करवाई. कुछ समय बाद बिजली घर में तैनात इमरजेंसी ड्यूटी के दो कर्मचारी आए और उन्होंने कहा कि आपकी लाइट ख़राब है और हमारे पास इमरजेंसी में कोई सामान नहीं होता है इसलिए हम आपकी लाइट ठीक नहीं कर सकते हैं.

श्री अली ने उन कर्मचारियों से कहा, “हम आपको सीएफएल बल्ब दे देते हैं. आप फिलहाल उसे लगा दीजिये. हमारे जीने में बहुत अँधेरा है और रात को कोई आने वाला भी नज़र नहीं आएगा.” इस पर कर्मचारी ने कहा, “हमारे पास होल्डर भी नहीं है कि हम आपका बल्ब उसमें लगा सकें.”

शिकायतकर्ता ने एरिया के जूनियर इंजिनियर सौरव बिष्ट से भी संपर्क किया. उन्होंने भी अपना पल्ला झाड़ते हुए कह दिया कि इमरजेंसी में हमारे पास कोई सामान नही होता है इसलिए हम कुछ नही कर सकते हैं.

गौरतलब है कि जहाँ एक तरफ नई दिल्ली पालिका परिषद स्मार्ट सिटी बनने जा रही है वहीँ दूसरी तरफ सरकारी क्वार्टरों में लोग अँधेरे में रहने को मजबूर हैं.

Top Stories