जहां भी कांग्रेस सत्ता में है, वहां किसान पीड़ित हैं: पीएम नरेंद्र मोदी

जहां भी कांग्रेस सत्ता में है, वहां किसान पीड़ित हैं: पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को तमिलनाडु के बीजेपी कार्यकर्ताओं से बातचीत की.पीएम मोदी ने कहा कि किसान जो हमारे अन्नदाता हैं, उनका कल्याण सिर्फ सरकार के लिए ही नहीं, बल्कि देश के लिए भी प्राथमिकता है. हमारी सरकार भारत में सबसे ज्यादा किसान अनुकूल सरकार है. हम कांग्रेस की तरह नहीं हैं, जो केवल किसानों से केवल दिखावटी प्रेम करें और उनके कल्याण को अनदेखा करें. जहां भी कांग्रेस सत्ता में है, वहां किसान पीड़ित हैं.

पीएम ने कहा, ”यदि कोई एक ऐसी पार्टी है जो खेती-किसानी मुद्दों को समझती है और हमेशा किसानों को सुनती है और अपने मुद्दों को हल करती है, तो यह बीजेपी ही है. पिछली सरकार के राज में लगातार बढ़ती महंगाई लोगों को नुकसान पहुंचा रही थी, जबकि उसकी तुलना में हमने महंगाई के मुद्दे को सफलतापूर्वक काबू में किया है.”

पीएम ने अपने संबोधन में कहा, ”यदि कोई एक ऐसी पार्टी है जो खेती-किसानी मुद्दों को समझती है और हमेशा किसानों को सुनती है और अपने मुद्दों को हल करती है, तो यह बीजेपी ही है. एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए एमएसपी को यह सुनिश्चित करने के लिए बढ़ा दिया गया है कि किसानों को उत्पादन की लागत का कम से कम 150% मिलता रहे.” उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास में हमारी पार्टी विश्वास रखती है. बीजेपी का मानना है कि भारत तब विकसित हो सकता है जब उत्तरी, दक्षिण, पूर्व और पश्चिम सभी विकसित हो जाएं.

देश में पहले चलता था VIP और अब चल रहा है EPI
वहीं, केरल के पार्टी कार्यकर्ताओं से पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले देश में वीआईपी लोगों को ज्यादा महत्व दिया जाता था. लेकिन, आज के समय में प्रचलित शब्द ईपीआई है. ईपीआई का मतलब है कि सभी लोग महत्वपूर्ण हैं. पीएम ने कांग्रेस और वामदल पर निशाना साधते हुए कहा कि केरल में इस समय सरकार दो मॉडल से चलाई जा रही है. एक कांग्रेस का मॉडल है और एक वामदलों का मॉडल. दोनों ही मॉडल कुशलता से भ्रष्टाचार और अप्रभावी शासन को दर्शाते हैं.

130 करोड़ लोगों की बात सुनी जाती है- पीएम मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी ने इस दौरान आत्मदाह करने वाले वेणुगोपाल नायर का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि हमारे लिए एक दुखद समाचार है. इसके कारण हमारी पार्टी को केरल में बंद का आह्वान करना पड़ा. उन्होंने कहा कि मैं बीजेपी कार्यकर्ताओं को बताना चाहता हूं कि इस घटना से सीख लें और ऐसे आत्मघाती कदम उठाने से लोगों को रोकें. पीएम मोदी ने कहा कि जब देश के 130 करोड़ लोग बोलते हैं, तो उनकी आवाज सुनी जाती है. हमारे जो भी मुद्दे हैं, हम उन्हें लोगों को समझाएंगे. बता दें कि भगवान अयप्पा के एक भक्त वेणुगोपाल ने केरल सचिवालय के सामने व बीजेपी के धरनास्थल के पास गुरुवार सुबह आत्मदाह कर लिया था.

Top Stories