Tuesday , December 12 2017

ज़लज़ला ज़दा ज़िला आवारान में इमदादी कार्यवाईयों में दुश्वारियां

पाकिस्तानी सूबा बलोचिस्तान के हालिया ज़लज़ले में हलाक होने वालों की तादाद तक़रीबन 350 हो चुकी है। इस दौरान इमदादी सरगर्मीयां में शदीद दुशवारीयों का सामना करना पड़ रहा है।

पाकिस्तानी सूबा बलोचिस्तान के हालिया ज़लज़ले में हलाक होने वालों की तादाद तक़रीबन 350 हो चुकी है। इस दौरान इमदादी सरगर्मीयां में शदीद दुशवारीयों का सामना करना पड़ रहा है।

अमरीकी ख़बररसां इदारे के मुताबिक़ मुतास्सिरा इलाक़ों में लोग अपनी मदद आप के तहत तामीराती काम कर रहे हैं। वो सर छिपाने के लिए बाँसों और पुरानी बेडशीटों को इस्तेमाल में लाते हुए आरिज़ी पनाह गाहें बना रहे हैं।

इंतिहाई दूर उफ़्तादा इलाक़ा होने की वजह से मुतास्सिरीन को अभी तक खाने पीने की अशीया भी फ़राहम नहीं की जा सकी हैं और इसी वजह से वो अपनी भूक और प्यास मिटाने के लिए मलबे को हटा कर ख़ुराक तलाश करने पर मजबूर हैं। इस के इलावा पाकिस्तान के इस पसमांदा तरीन सूबे में तिब्बी सहूलियात का भी शदीद फ़ुक़दान है।

TOPPOPULARRECENT