Saturday , June 23 2018

ज़िमनी इंतेख़ाबात में तेलंगाना जज़बा की कामयाबी यक़ीनी

कांग्रेस के रुक्न पार्लीमेंट मिस्टर जी वीवेक ने कहा कि ज़िमनी इंतेख़ाबात में तेलंगाना जज़बा की कामयाबी यक़ीनी है और तेलंगाना तहरीक कमज़ोर पड़ने का दावा करने वालों के लिए इंतिख़ाबी नताइज जवाब होंगे। तेलंगाना कांग्रेस के अरका

कांग्रेस के रुक्न पार्लीमेंट मिस्टर जी वीवेक ने कहा कि ज़िमनी इंतेख़ाबात में तेलंगाना जज़बा की कामयाबी यक़ीनी है और तेलंगाना तहरीक कमज़ोर पड़ने का दावा करने वालों के लिए इंतिख़ाबी नताइज जवाब होंगे। तेलंगाना कांग्रेस के अरकान-ए-पार्लीमैंट इंतिख़ाबी मुहिम में हिस्सा नहीं लेंगे। आज असेंबली के मीडीया प्वाईंट पर सहाफ़ीयों से बातचीत करते हुए मिस्टर जी वीवेक ने कहा कि तेलंगाना के अवाम बाशऊर हैं, तेलंगाना के मुख़ालिफ़ कौन हैं और कौन तेलंगाना रियासत तशकील दे सकते हैं, अवाम को इस बात का अंदाज़ा है।

अवाम इन ही उम्मीदवारों को कामयाब बनाएंगे, जो कामयाबी के बाद तेलंगाना तहरीक चलाते हुए अलहदा तेलंगाना रियासत की तशकील के लिए रियास्ती-ओ-मर्कज़ी हुकूमत को तवज्जा दिलाएं गे। उन्हों ने कहा कि तेलंगाना क़ाइदीन के दरमयान इत्तिहाद का फ़ुक़दान है, जिस की वजह से रियासत की तक़सीम में ताख़ीर हो रही है। कांग्रेस के चंद क़ाइदीन ने तहरीक के मुक़ाबिल ओहदों को तर्जीह दी है, अब उन की ज़िम्मेदारी है कि वो अलहदा रियासत की तशकील और पार्टी उम्मीदवारों की कामयाबी के लिए सरगर्म रोल अदा करें।

क्या तेलंगाना के किसी क़ाइद को सदर प्रदेश कांग्रेस बनाने की आप ताईद करते हैं? के सवाल का जवाब देते हुए उन्हों ने कहा कि हम अलहदा तेलंगाना रियासत चाहते हैं, अलहदा रियासत बनने के बाद चीफ़ मिनिस्टर, सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के इलावा दीगर तमाम ओहदे तेलंगाना क़ाइदीन को हासिल होंगे।

क्या तेलंगाना के अरकान-ए-पार्लीमैंट इंतिख़ाबी मुहिम में हिस्सा लेंगे? के सवाल का जवाब देते हुए उन्हों ने कहा कि पार्लीमैंट सैशन शुरू होने वाला है, जिस की तैयारीयों में अरकान-ए-पार्लीमैंट मसरूफ़ हैं। उन्हों ने डाक्टर के केशव राव को दूसरी मीयाद के लिए मुंतख़ब करने पर ज़ोर देते हुए कहा कि हम इस मुआमले में पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह के इलावा मर्कज़ी वज़ीर-ए-सेहत मिस्टर ग़ुलाम नबी आज़ाद से नुमाइंदगी कर चुके हैं।

तेलंगाना जज़बा का एहतिराम करते हुए डाक्टर केशव राव ने तहरीक में हमारी क़ियादत की है। उन्हों ने रियासत में बर्क़ी कटौती पर तशवीश का इज़हार करते हुए कहा कि 30 ता 40 फ़ीसद बर्क़ी कटौती से कई कंपनीयां बंद हो रही हैं, जिस की वजह से मुलाज़मीन अपनी मुलाज़मत से महरूम हो रहे हैं और हुकूमत टेक्स वग़ैरा से महरूम हो रही है।

TOPPOPULARRECENT