Monday , December 11 2017

ज़िला चित्तूर में बड़े जानवरों की क़ुर्बानी पर पाबंदी

मुदुन पली 02 नवंबर ( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) ज़िला चित्तूर के एडीशनल जवाइंट कुलैक्टर इंचार्ज मिस्टर सीशया ने बताया कि बक़रईद के मौक़ा पर जानवरों के ज़बीह पर पाबंदी लगाई गई है । लिहाज़ा इस के रोक थाम केलिए इक़दामात किए जाएं । उन्हों न

मुदुन पली 02 नवंबर ( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) ज़िला चित्तूर के एडीशनल जवाइंट कुलैक्टर इंचार्ज मिस्टर सीशया ने बताया कि बक़रईद के मौक़ा पर जानवरों के ज़बीह पर पाबंदी लगाई गई है । लिहाज़ा इस के रोक थाम केलिए इक़दामात किए जाएं । उन्हों ने ओहदेदारों के साथ इस सिलसिला में जायज़ा लिया और कहा कि जानवरों को ज़बह करना क़ानून के तहत जुर्म है । महिकमा अफ़्ज़ाइश हैवानात के डाक्टर ऐम सरीनवा सल्लू ने कहा कि ज़बीहा गाॶं पर अवाम में शऊर बेदार किया जाएगा । तहफ़्फ़ुज़ जानवर इन कमेटी के सदर डाक्टर कृष्णा राॶ ने कहा कि यक्म नवंबर से चैकपोस्ट पर जानवरों से लदी गाड़ीयों को पकड़ा जाएगा । ये ख़बर अख़बारों में पढ़ कर मुस्लमानों में बेचैनी फैली हुई है । ऊंट , बैल की क़ुर्बानी के ताल्लुक़ से बेहद परेशान हो रहे हैं कि ऐन क़ुर्बानी के वक़्त कहीं ये लोग परेशान ना करदें । इस ताल्लुक़ से हुकूमत क्या रवैय्या इख़तियार करेगी । इस पर सवालिया निशान खड़ा हुआ है.

TOPPOPULARRECENT