Tuesday , December 19 2017

जाट रिजर्वेशन: गोली चली तो छुप गए IG, हुए सस्पेंड:

2Q==(9)

जाट आरक्षण के लिए आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के एक हफ्ते बाद हरियाणा सरकार ने गुरुवार को पुलिस आईजी श्रीकांत जाधव और दो डीएसपी को सस्पेंड कर दिया है। रोहतक में सबसे ज्यादा हिंसा और तोड़फोड़ हुई थी।
जाधव पर आरोप हैं कि 19 फरवरी को बीएसएफ द्वारा चलाई गोली में एक युवक की मौत के बाद वह भीड़ के हमले से डरकर अपने घर में छिप गए थे। रोहतक में भीड़ द्वारा राज्य के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु समेत कई घरों में तोड़फोड़ मचाई जा रही थी और उनके घर के बाहर भारी संख्या में पुलिस तैनात थी। सूत्रों के मुताबिक आईजी की सुरक्षा में एसपी झज्जर और तीन कंपनियां तैनात थीं। चार दिन पहले ही वह क्राइम रेकॉर्ड ब्यूरो में शिफ्ट हुए थे। कुछ समय पहले जाधव का नाम AIPMT पेपर लीक केस को सुलझाने और बिल्डरों और डिवेलपर्स द्वारा 10,618 करोड़ रुपए के टैक्स उल्लंघन घोटाले का खुलासा करने के चलते सुर्खियों में आया था।

हमारे सहयोगी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया को मिले कागजात से पता चलता है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने खुद अडिशनल चीफ सेक्रटरी (गृह) पीके दास के जाधव के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के प्रस्ताव पर साइन किए हैं।

TOPPOPULARRECENT