Saturday , December 16 2017

जात-पात की सियासत खतरनाक : पप्पू यादव

जात-पात की सियासत करनेवाले लोग गरीबों के सबसे बड़े दुश्मन हैं। नौजवान ताक़त ऐसे लोगों के खिलाफ मुत्तहीद होकर लड़ाई लड़नी होगी। इससे मुल्क और समाज का भला होगा। आज समाज में बदलाव लाने की जरूरत है। ये बातें इतवार को "युवा शक्ति" के क़ौ

जात-पात की सियासत करनेवाले लोग गरीबों के सबसे बड़े दुश्मन हैं। नौजवान ताक़त ऐसे लोगों के खिलाफ मुत्तहीद होकर लड़ाई लड़नी होगी। इससे मुल्क और समाज का भला होगा। आज समाज में बदलाव लाने की जरूरत है। ये बातें इतवार को “युवा शक्ति” के क़ौमी सदर व राजद के एमपी पप्पू यादव ने मुक़ामी पार्वती हाइ स्कूल के खेल मैदान में “जन संवाद” रैली को खिताब करते हुए कहीं।

उन्होंने अपने डेढ़ घंटे के तक़रीर में कहा कि रियासत मे सेहत व तालीम निज़ाम चौपट करने में सियासी लीडरों का बड़ा शिराकत है। उन्होंने कहा कि मुल्क के वजीरे आजम नरेंद्र मोदी दिल की बात करते हैं और बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार मन की बात करने लगे हैं, आम आदमी घूट-घूट कर मरने को मजबूर है। उन्होंने कहा कि जात की सियासत करने की वजह ही आज शरद यादव, नीतीश कुमार और लालू प्रसाद की सियासी दायरा सिमटा जा रहा है।

आनेवाले दिनों में रियासत की कियासत गरीब का बेटा संभालेगा। किसी भी पार्टी के जानशीं आवाम तय करती है, लीडर नहीं। “जन संवाद” में “युवा शक्ति” के वर्किंग सदर सुरेंद्र यादव, मिथिलेश यादव, अंजू देवी, नागेंद्र सिंह त्यागी, इमाम आजाद, उमेश यादव ने किया।

TOPPOPULARRECENT