निपाह वायरस: इस मुस्लिम देश ने भारतीयों पर देश में आने और जाने पर रोक लाई?

निपाह वायरस: इस मुस्लिम देश ने भारतीयों पर देश में आने और जाने पर रोक लाई?
Click for full image

इन दिनों केरल के कोझिकोड जिले में एक बेहद खतरनाक और जानलेवा वायरस ने अपना ठिकाना बना लिया और यह तेज़ी से केरल के कुछ इलाकों में फैल रहा है। यह वायरल बेहद ही खतरनाक बताया जा रहा है।

इस तेज़ी से फैलने वाले वायरस का नाम है ‘निपाह’ वायरस. अब तक 11 लोग इसकी चपेट में आ चुके है, इन सभी लोगों की मौत इस वायरस के उनके शरीर में प्रवेश करने की वजह से हुई है. जबकि कुछ लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।

केरल में फैले इस वायरस के बाद संयुक्त अरब अमीरात ने गुरुवार को यात्रियों को केरल में अनावश्यक यात्राओं को ना करने के लिए कहा और भारतियों या फिर केरल जाने वाले यात्रियों को यात्रा को स्थगित करने के लिए कहा और बोला की जब तक कि दक्षिण भारतीय राज्य में निपाह वायरस प्रकोप नियंत्रण में ऩा हो जाए तब तक यात्रा ना करें।

गुरुवार को लगभग 3 बजे जारी किए गए एक मीडिया स्टेटमेंट में, स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय (एमओएचएपी) ने संक्रमण के अनुबंध की संभावना से अवगत होने के लिए केरल यात्रा करने वाले लोगों को सतर्क कर दिया और उन्हें स्थिति को नियंत्रित होने तक अनावश्यक यात्रा स्थगित करने की सलाह दी। बयान में कहा गया है कि घातक वायरस ने एक और ज़िंदगी ली है, जिससे राज्य में मृतकों की संख्या गुरुवार को 11 हो गई है।

डॉ केपी हुसैन चेयर, फातिमा हेल्थकेयर ने कहा की “जैसा कि मंत्रालय ने कहा था, विशेष रूप से प्रभावित जिला कोझिकोड में यात्रा से बचने के लिए सलाह दी जाती है जब तक कि हमें आश्वस्त न हो कि स्थिति नियंत्रण में है।

बुधवार को, संयुक्त अरब अमीरात ने भारत में अपने नागरिकों से सावधानी बरतने और केरल में निपाह वायरस के फैलने के बाद भारतीय अधिकारियों के निर्देशों का पालन करने के लिए कहा।

निपाह वायरस के बाद अब्दुल अज़ीज़ मानम्मल, दुबई निवासी ने कहा की “इसने हमारे रिश्तेदारों के घर में एक दहशत की स्थिति पैदा की है। यद्यपि हमारा क्षेत्र बिल्कुल प्रभावित नहीं हुआ है, लोगों ने बाहरी गतिविधियों को कम कर दिया है।

Top Stories