Monday , August 20 2018

जानिए: हस्तमैथुन कितना घातक है सेक्स जीवन के लिए?

सबसे पहले तो यह भ्रम अपने दिमाग से निकाल दें कि मास्‍टरबेशन या हस्‍तमैथुन की वजह से अपनी सेक्‍सुअल पावर और डिजायर खो दी है. पूरी दुनिया में ज्‍यादातर पुरुष और महिलाएं अपने जीवन में कभी न कभी हस्‍तमैथुन करते हैं. यह बहुत स्‍वाभाविक और प्राकृतिक है.

ऐसा करने से न तो नपुंसकता आती है और न ही कोई बीमारी या कमजोरी होती है. यह बहुत बड़ा भ्रम है.इसे लेकर तमाम तरह की गलत अवधारणाएं अकसर लोगों के दिमाग में होती हैं. चूंकि हमारे यहां सेक्‍स एजुकेशन का कोई प्रावधान नहीं है और न ही सेक्‍स के विषय पर कभी खुलकर बात की जाती है.

इसलिए अकसर लोगों को अपने सवालों और आशंकाओं का वैज्ञानिक उत्‍तर नहीं मिल पाता और वो अपने भ्रम को ही सच मान लेते हैं.कल्‍पना करिए कि अगर हस्‍तमैथुन से नपुंसकता होती तो आज दुनिया की आबादी इतनी ज्‍यादा नहीं होती.

नपुंसकता या शीघ्रपतन के अन्‍य बहुत से कारण हो सकते हैं. आपके स्‍वास्‍थ्‍य, कोई शारीरिक बीमारी से लेकर खानपान और फिटनेस तक आपके सेक्‍सुअल एक्‍ट पर असर डालते हैं.

इसलिए आपको इस संबंध में तत्‍काल किसी डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाहिए. आज मेडिकल साइंस इतना आगे निकल चुका है कि नपुंसकता और कम उत्‍तेजना से लेकर शीघ्रपतन तक का इलाज मुमकिन है. इसके लिए दवाइयां, इंजेक्‍शन आदि बाजार में उपलब्‍ध हैं, लेकिन डॉक्‍टरी की सलाह के बगैर उनमें से किसी का इस्‍तेमाल न करें.

अपना डॉक्‍टर स्‍वयं न बनें.लेकिन यहां मैं एक बात जोर देकर कहना चाहूंगा कि दवाइयों और इंजेक्‍शन से लेकर कृत्रिम लिंग तक का विकल्‍प मौजूद है, लेकिन क्‍या इस विकल्‍प को अपनाना एक समझदारी भरा फैसला होगा.

हम सेक्‍स क्‍यों करते हैं, आनंद के लिए या किसी मजबूरी में. आपकी यह चिंता वाजिब है कि आप अपने साथी को संतुष्‍ट नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन याद रखिए कि साथी को संतुष्‍ट करने के लिए यह बिलकुल जरूरी नहीं कि सेक्‍स बहुत लंबा हो, बल्कि यह जरूरी है कि वह अच्‍छा हो. प्रकृति ने स्त्रियों को अलग ढंग से बनाया है.

उन्‍हें सेक्‍स से कहीं ज्‍यादा आनंद फोरप्‍ले से मिलता है. इसलिए यदि सेक्‍सुअल एक्‍ट यानी संभोग से पहले ज्‍यादा लंबा समय फोरप्‍ले में बिताया जाए तो सिर्फ दो मिनट के सेक्‍स में भी वह चरम सीमा का अनुभव कर सकती हैं.

इसलिए यह सोचने की बजाय कि आपका सेक्‍स सेशन कितना लंबा था, आपको यह सोचने की जरूरत है कि वह कितना जानदार था.इसलिए अपने सारे भ्रमों और आशंकाओं से मुक्‍त हो जाइए.

साथी को वक्‍त दीजिए, सेक्‍स में उसकी इच्‍छा और खुशी को प्राथमिकता दीजिए और यह भ्रम अपने दिमाग से बिलकुल निकाल दीजिए कि हस्‍तमैथुन करके आपने कोई गलत काम किया है.

TOPPOPULARRECENT