Tuesday , September 25 2018

जामात अलममनात के सहि माही इम्तिहानात का आज से आग़ाज़

हैदराबाद ०३ दिसम्बर: सदर शोबा इमतिहानात डाक्टर मुफ़्तिया नाज़िमा अज़ीज़ मॶमनाती ने अपने प्रैस नोट में बताया कि जामाता अलमॶमनात के सालाना इमतिहानात जमात अव्वलता मुफ़्ती कोर्स मआ हिफ़्ज़ उल-क़ुरआन यक्म दिसम्बर हफ़्ता से आग़ाज

हैदराबाद ०३ दिसम्बर: सदर शोबा इमतिहानात डाक्टर मुफ़्तिया नाज़िमा अज़ीज़ मॶमनाती ने अपने प्रैस नोट में बताया कि जामाता अलमॶमनात के सालाना इमतिहानात जमात अव्वलता मुफ़्ती कोर्स मआ हिफ़्ज़ उल-क़ुरआन यक्म दिसम्बर हफ़्ता से आग़ाज़ 5 डसमबर तक ये इमतिहान का सिलसिला जारी रहेगा। 80 फ़ीसद हाज़िरी रखने वाले तालिबात शरीक इम्तिहान हो सकते हैं।

जमात अव्वलता मौलू ये ऊला मा हिफ़्ज़ उल-क़ुरआन के औक़ात सुबह 9 ता एक बजे दिन जमात मौलू ये सानियाता मुफ़्ती कोर्स मआ शोबा मसाईआ के औक़ात 2 ता 5 बजे शाम रहेंगी। दोनों शहरों के जय्यद हुफ़्फ़ाज़-ओ-उल्मा किराम के ख़िदमात तक़रीरी इमतिहान के लिए हासिल किए जा रहे हैं।

इम्तिहानात का तफ़सीली निज़ाम उल-अमल हसब-ए-ज़ैल ही। यक्म डसमबर को पर्चा अव्वल तफ़सीर, पर्चा दोम हदीस-ओ-उसूल-ए-हदीस , 3 दिसम्बर को पर्चा सोम फ़िक़्ह, पर्चा चहारुम उसूल-ए-फ़िक़ा , 4 डसमबर को पर्चा पंजुम क़वाइद सिर्फ़-ओ-नहू, पर्चा शुशम अरबी अदब नज़म-ओ-नस्र, 5 डसमबर को पर्चा हफ़तुम मंतिक़ मफ़लसफ़ा, पर्चा हशतुम अंग्रेज़ी-ओ-कम्पयूटर शामिल है। ”इम्तिहानात डाक्टर मुफ़्तिया रिज़वाना ज़रीन प्रिंसिपल की निगरानी में मुनाक़िद हो रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT