Sunday , December 17 2017

जासूसी मामला: सपा के सांसद ने पी ए को हटाया, बोले: गद्दारी करने वालों को मिले सजा

नई दिल्ली। जासूसी मामले में पीए की गिरफ्तारी के बाद समाजवादी पार्टी के सांसद चौधरी मुनव्वर सलीम का पहली प्रतिक्रिया सामने आया है। सांसद ने कहा कि राज्यसभा, दिल्ली पुलिस और उत्तर प्रदेश पुलिस की पुष्टि के बाद उन्होंने पीए फरहत की नियुक्ति की थी। मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के रहने वाले मुनव्वर सलीम ने बताया कि फरहत की गिरफ्तारी के बाद उन्होंने राज्यसभा सचिवालय को सूचित कर उसे तुरंत पद से हटा दिया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार सांसद सलीम ने कहा, ‘मैं सिर्फ इतना कह सकता हूं कि लगभग 11 महीने पहले फरहत को पीए के रूप में मौका दिया था। मौका देने से पहले राज्यसभा सचिवालय से सभी तरह की जांच हुई थी। दिल्ली पुलिस और यूपी पुलिस ने भी जांच की थी।
फरहत की गिरफ्तारी पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सपा सांसद ने कहा कि विदिशा और दिल्ली दोनों जगहों पर उनका घर धर्मशाला की तरह है, जहां बहुत सारे लोग आते रहते हैं। मुझे इस बात का अफसोस है कि इस तरह के आदमी कैसे मेरे जीवन में शामिल हुआ। पूरे मामले की जांच होनी चाहिए।
उन्होंने बताया कि टीवी रिपोर्ट से ही उन्हें फरहत की गिरफ्तारी की सूचना मिली है। सपा सांसद ने कहा कि जांच में उनका पूरा सहयोग रहेगा। देश से गद्दारी करने वाले पापी को सजा जरूर मिलनी चाहिए।
सपा सांसद ने कहा कि वह कभी भी फरहत के घर या शहर नहीं गए। फरहत के बारे में उन्हें इस बात की जानकारी थी कि वह इससे पहले भी कई सांसदों के पीए रह चुका है।

TOPPOPULARRECENT