Friday , November 24 2017
Home / World / जिनेवा मुज़ाकरात: शामी फ़रीक़ों की एक दूसरे पर इल्ज़ाम तराशी

जिनेवा मुज़ाकरात: शामी फ़रीक़ों की एक दूसरे पर इल्ज़ाम तराशी

Salim al-Muslat, spokesman for the High Negotiations Committee (HNC), the main Syrian opposition group at the Geneva peace talks, attends a news conference in Geneva, Switzerland, January 31, 2016. REUTERS/Denis Balibouse

स्विस शहर जिनेवा में अक़वामे मुत्तहिदा के ज़ेरे एहतेमाम अमन मुज़ाकरात में शिरकत करने वाले शाम के मुतहारिब धड़ों ने एक दूसरे पर मुम्किना मनफ़ी तर्जे अमल अपनाने के इल्ज़ामात आयद किए हैं और हिज़्बे इख़्तेलाफ़ का कहना है कि बशारुल असद रिजीम मुज़ाकरात को नाकाम बनाने के लिए काम करेगा।

शामी हिज़्बे इख़्तेलाफ़ की आला मुज़ाकराती कमेटी (एच एन सी) के तर्जुमान सलीम अल मसलात ने जिनेवा में सहाफ़ीयों से गुफ़्तगु करते हुए कहा है कि वो ऐसे सियासी अमल का आग़ाज़ चाहते हैं जो इंतिख़ाबात और मुल्क में तमाम तबक़ों की नुमाइंदा हुकूमत के क़ियाम पर मुंतिज हो।

उन्होंने कहा: वो यहां ये साबित करने के लिए आए हैं कि वो सियासी अमल को कामयाब करने में दिलचस्पी रखते हैं जबकि असद रिजीम उस के बर ख़िलाफ़ काम करेगा। तर्जुमान ने कहा कि शामी हिज़्बे इख़्तेलाफ़ एक उबूरी हुकूमत के क़ियाम, उबूरी आईन और तमाम शामियों के नुमाइंदा इंतिख़ाबी अमल के लिए आगे बढ़ना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT