Friday , November 24 2017
Home / AP/Telangana / जिन्सी अत्याचार से मुतास्सिर मुसीबतज़दा ख़वातीन के लिए भरोसा

जिन्सी अत्याचार से मुतास्सिर मुसीबतज़दा ख़वातीन के लिए भरोसा

हैदराबाद 09 मार्च: बैन-उल-अक़वामी यौमे ख़वातीन के मौके पर हैदराबाद सिटी पुलिस ने जुल्म से मुतास्सिरा ख़वातीन और बच्चों को तहफ़्फ़ुज़ की फ़राहमी के लिए एक इमदादी मर्कज़ भरोसा के क़ियाम का एलान किया।

हैदराबाद पुलिस कमिशनर एम महिन्द्र रेड्डी ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि मुख़्तलिफ़ सतहों पर मुतास्सिरा ख़वातीन की मदद के लिए भरोसा की तरफ से पुलिस, तिब्बी, क़ानूनी ख़िदमात, नफ़सियाती ईलाज, राहत, इमदाद-ओ-बाज़ आबादकारी के ज़रीये ज़रूरत के मुताबिक़ एक छत तले तमाम ख़िदमात फ़राहम की जाएँगी।

कमिशनर पुलिस ने कहा कि जिन्सी हरासानी, जिन्सी हमलों, घरेलू जुल्म, बुरदा फारोशि (इन्सानी स्मगलिंग) (ख़ानदान की) इज़्ज़त से मुताल्लिक़ जराइम, तेज़ाब हमले और मुख़ासमत के सबब ग़ैर ज़रूरी पीछा उठाए जाने जैसे वाक़ियात से मुतास्सिरा ख़वातीन और बच्चीयों के इस इमदादी मर्कज़ से रुजू किए जाने की सूरत में तमाम ज़रूरी और ख़ुसूसी ख़िदमात फ़राहम की जाएँगी।

हैदराबाद सिटी पुलिस ने हुकूमत तेलंगाना को एक तजवीज़ पेश की थी कि अवामी-ओ-ख़ानगी साझेदारी में एक सोसाइटी की इजाज़त दी जाये ताकि मुसीबतज़दा ख़वातीन और बच्चीयों को कम से कम वक़्त में बेहतर से बेहतर ख़िदमात दी जा सके। हुकूमत तेलंगाना ख़वातीन और बच्चों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए एक सोसाइटी (भरोसा) के क़ियाम की इजाज़त दी है और बहुत जल्द उस का क़ियाम अमल में लाया जाएगा।

एडिशनल कमिशनर पुलिस स्वाति लाकरा ने कहा कि जिस्मानी, नफ़सियाती, जज़बाती, जिन्सी या मआशी मज़ालिम का सामना करने वाली ख़वातीन और बच्चीयों को उनकी उम्र, समाजी रुत्बा, ज़ात, तालीमी और अज़दवाजी मौकुफ़, रंग, नसल-ओ-तहज़ीब का इमतियाज़ किए बग़ैर मुम्किना मदद-ओ-रहनुमाई फ़राहम की जाएगी। हैदराबाद पुलिस के सरबराह महिन्द्र रेड्डी ने ख़वातीन के इस इमदादी मर्कज़ भरोसा के वेबसाइट www.bharosahyderabadpolice.org का इफ़्तेताह किया।

TOPPOPULARRECENT