Tuesday , December 12 2017

जिस्मफरोशी रैकेट : बंगला देशी औरत और एक बरतरफ़ कांस्टेबल को सज़ा

शहर की एक अदालत ने जिस्मफरोशी का रैकेट चलाने वाले तीन दलालों को मुजरिम क़रार दिया है जिन में एक बंगला देशी औरत और एक साबिक़ पुलिस कांस्टेबल भी शामिल हैं जो मुलाजिमत के बहाने लड़कीयों को बंगला देश से यहां लाकर क़हबा गिरी में शमिल करने

शहर की एक अदालत ने जिस्मफरोशी का रैकेट चलाने वाले तीन दलालों को मुजरिम क़रार दिया है जिन में एक बंगला देशी औरत और एक साबिक़ पुलिस कांस्टेबल भी शामिल हैं जो मुलाजिमत के बहाने लड़कीयों को बंगला देश से यहां लाकर क़हबा गिरी में शमिल करने के जुर्म के मुर्तक़िब पाए गए हैं।

इन तीनों को फी कस तीन साल की सज़ाए क़ैद बामुशक़क़्त दी गई है। फ़रस्ट क्लास स्पेशल जोडीशील मजिस्ट्रेट की अदालत ने बंगला देशी औरत फ़ातिमा ख़ातून, करीमनगर के बरतरफ़ कांस्टेबल वीनू गोपाल रेड्डी और कृष्णा रेड्डी को हिंदुस्तानी ताज़ीरी क़ानून और क़ानून इंसिदाद ग़ैर अख़लाक़ी सरगर्मीयां की मुख़्तलिफ़ दफ़आत के तहत जुर्म का मुर्तक़िब क़रार दिया है।

अदालत ने फ़ातिमा ख़ातून को ताज़ीरी ज़ाबता क़ानून की दफ़ा 471 के तहत धोका दही के मक़सद से जलासाज़ी और बैरूनी शहरीयों के क़ानून की दफ़ा के तहत जुर्म का मुर्तक़िब क़रार दिया है।

TOPPOPULARRECENT