जिस्म में आग लगा कर खातून ने दे दी जान

जिस्म में आग लगा कर खातून ने दे दी जान
सदर थाना इलाक़े के हैदर अली रोड वाक़ेय हनुमान मंदिर के नजदीक रहने वाली खातून ने बुध की रात जिस्म में आग लगा कर खुदकशी कर ली। पुलिस ने खातून की लाश को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है।

सदर थाना इलाक़े के हैदर अली रोड वाक़ेय हनुमान मंदिर के नजदीक रहने वाली खातून ने बुध की रात जिस्म में आग लगा कर खुदकशी कर ली। पुलिस ने खातून की लाश को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है।

पुलिस के खातून के शौहर तुलसी यादव ने बताया कि उसकी बीवी काफी- दिनों से बीमार थी। वह चलने-फिरने के काबिल नहीं थी। खदसा ज़हीर किया जा रहा है कि बीमारी से परेशान होकर उसने खुदकशी की है। जानकारी के मुताबिक ख़वातीन बुध की रात सात बजे घर में अकेली थी, जबकि तुलसी यादव कमरे से बाहर थे। इस दौरान खातून केरोसिन का डब्बा लेकर छत पर पहुंची और छत का दरवाजा बंद कर आग लगा ली।

चिल्लाने की आवाज सुन अहले खाना के लोग भागते हुए छत पर पहुंचे और उसे बचाने की कोशिश किया, लेकिन छत का दरवाजा बंद रहने की वजह वे कासिर थे। पड़ोस का लड़का पाइप के सहारे छत पर चढ़ा, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।

Top Stories