Monday , December 18 2017

जिस घर में शौचालय नहीं, वहां नहीं पढ़ाया जायेगा निकाह: मौलाना महमूद मदनी

गुवाहाटी: केंद्र सरकार के स्वच्छ भारत अभियान के तहत घर-घर शौचालय स्कीम पर जमीयत-उलमा-ए-हिंद के सचिव जनरल मौलाना महमूद मदनी ने एक फैसला सुनाया है। गुवाहाटी के खानापाड़ा में स्वच्छता पर आयोजित असम सम्मेलन के उद्घाटन के दौरान उन्होंने कहा कि तीन राज्यों हरियाणा, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में हमने फैसला लिया है कि हम उन लड़कों की शादी नहीं कराएंगे, जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं। क्योंकि स्वच्छता के लिए घर में शौचालय होना बहुत जरूरी है।

यहाँ पर निकाह के लिए शर्त के तौर पर घर में शौचालय होना अनिवार्य कर दिया गया है। इसलिए हम सभी मौलवी, मुफ़्ती ने फैसला लिया है कि जिस घर में शौचालय नहीं होगा वहां पर कोई निकाह नहीं पढ़ने जाएगा। हम चाहते हैं कि ये फैसला सिर्फ इन तीन राज्यों तक सीमित न रहे बल्कि ये देश के सभी राज्यों और सभी धर्मो में होना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT