Tuesday , August 21 2018

जिहाद का दरस देने वाले तमाम मदारिस की तालाबंदी का मुतालिबा

विश्वा हिन्दू परिषद के कारगुज़ार सदर डाक्टर प्रवीण तोगाड़िया ने क़ौमी मर्कज़ बराए इन्सेदाद-ए-दहशतगर्दी (एन सी टी सी) पर गुज़शता चंद माह जारी बहस-ओ-मुबाहिसा के इलावा मर्कज़ और मुख़्तलिफ़ रियास्तों के दरमयान इजलासों को इंतिहाई मज्हकाख़े

विश्वा हिन्दू परिषद के कारगुज़ार सदर डाक्टर प्रवीण तोगाड़िया ने क़ौमी मर्कज़ बराए इन्सेदाद-ए-दहशतगर्दी (एन सी टी सी) पर गुज़शता चंद माह जारी बहस-ओ-मुबाहिसा के इलावा मर्कज़ और मुख़्तलिफ़ रियास्तों के दरमयान इजलासों को इंतिहाई मज्हकाख़ेज़ क़रार दिया है और इल्ज़ाम आइद किया कि मर्कज़ या रियास्ती हुकूमतों में से कोई भी दहश्तगर्दी के ख़िलाफ़ जंग के मसला पर संजीदा नहीं है।

प्रवीण तोगाड़िया ने रोज़नामा सियासत हैदराबाद को फैक्स के ज़रीया भेजे गए दो सफ़हात पर मुश्तमिल सहाफ़ती ब्यान में इंतिहाई सख़्त लब-ओ-लहजा इख्तेयार किया है और रिवायती ज़हर अफ़्शानी करते हुए मर्कज़ी और रियास्ती हुकूमतों से मुतालिबा किया कि जिहाद का दरस-ओ-तालीम देने वाले तमाम दीनी मदरसों की फ़िलफ़ौर तालाबंदी की जाए।

मर्कज़ी हुकूमत को चाहीए कि पाकिस्तान के साथ तमाम ताल्लुक़ात मुनक़ते कर लिए जाएं। तोगाड़िया ने कहा कि भारतीय फ़ौज , कश्मीर से आसाम तक जिहादी दहश्तगर्दी का हर रोज़ मुक़ाबला कर रही है , हज़ारों बहादुर फ़ौजी सिपाही और पुलिस जवान हलाक हो चुके हैं लेकिन उन्हें दहश्तगर्दी पर कंट्रोल करने के लिए कोई इख़्तेयारात नहीं दिए गए हैं।

एनकाउंटर के मुक़द्दमात में हुकूमत ऐसे फ़ौजी और पुलिस जवानों को जेल भेज रही है । तोगाड़िया ने मज़ीद कहा कि छत्तीसगढ़ से ओडीशा हुकूमत अच्छी तरह जानती है कि आई आई की ताईदी याफ्ता कौन सी जिहादी तंज़ीमें
माओवादीयों और नक़्सलाईट्स की मदद कर रहे हैं और कौन से गिरजाघर इन माओवादीयों की पनाहगाह बने हुए हैं।

तो तोगाड़िया ने इल्ज़ाम आइद किया कि मुंबई, बिहार, आज़म गढ़ , गोधरा , मधोबनी , भीवनडी , भटकल , मालदा जिहादी दहश्तगर्दी के मुआवनीन का गढ़ बने हुए हैं, लेकिन इक़्तेदार की हवस की शिकार मर्कज़ी-ओ-रियास्ती हुकूमतें अक़ल्लीयती वोटरों की ख़ुशनूदी हासिल कर रही हैं चुनांचे जिहादी दहश्तगर्दों के ऐसे नेटवर्क को कभी ख़त्म नहीं करेंगी।

TOPPOPULARRECENT