Saturday , November 18 2017
Home / Crime / जीएसटी के बाद आई मंदी से परेशान होकर मुम्बई के एक व्यापारी  ने की आत्महत्या

जीएसटी के बाद आई मंदी से परेशान होकर मुम्बई के एक व्यापारी  ने की आत्महत्या

मुम्बई : वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लागू होने के बाद से लोग इसे समझने और इसके साथ सामंजस्य बैठाने की कोशिश कर रहे हैं. इस बीच मुंबई एक व्यापारी ने जीएसटी के बाद आई मंदी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली.

54 वर्षीय कपड़ा व्यापारी मनीष खूबचंद मेहता मुंंबई में लोखंडवाला कॉम्प्लेक्स स्थि​त आॅक्टा क्रेस्ट सोसाइटी में रहते थे. उन्होंने गुरुवार सुबह करीब 8:30 बजे बिल्डिंग की 17वीं मंजिल से कूद गए.

मनीष अपनी पत्नी, दो बेटों और पिता के साथ रहते थे. उनका 25 साल का बेटा नौकरीपेशा है और दूसरा 23 साल का बेटा कॉलेज में पढ़ता है. बताया जा रहा है कि मनीष से बैंकों से काफी उधार ले रखा था.

कई दिनों से था परेशान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मनीष की पत्नी ने पुलिस को बताया कि मनीष जीएसटी लागू के बाद से काफी परेशान था. बारिश के मौसम के चलते कपड़ों का बाजार भी मंद चल रहा था.

इसके बाद जीएसटी और नोटबंदी के कारण व्यवसाय पर पड़े असर और व्यापारियों की हड़ताल ने उनकी हालत और खराब कर दी. मनीष कई दिनों से परेशान चल रहे थे. उन्होंने इसका जिक्र आत्महत्या से एक दिन पहले बुधवार रात को खाने के दौरान अपने परिजनों से किया था. लेकिन, उस वक्त किसी को मनीष के आत्महत्या करने का अंदाजा नहीं था.

पत्नी के मुताबिक मनीष गुरुवार सुबह जॉगिंग पर गए. दूध भी लाकर किचन में रखा और फिर अचानक बालकनी पर जाकर नीचे कूद गए. बिल्डिंग के ही एक शख्स ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है

TOPPOPULARRECENT