Saturday , December 16 2017

जी एच एम सी का 3,800 करोड़ रुपये पर मुश्तमिल बजट मंज़ूर

हैदराबाद 19 फ़बरोरी : ग्रेटर हैदराबाद मुंसीपल कारपोरेशन ( जी एच एम सी ) ने आज मालीयाती साल 2013-14 केलिए 3,800 करोड़ रुपये पर मुश्तमिल अपना बजट मंज़ूर करलिया ।

हैदराबाद 19 फ़बरोरी : ग्रेटर हैदराबाद मुंसीपल कारपोरेशन ( जी एच एम सी ) ने आज मालीयाती साल 2013-14 केलिए 3,800 करोड़ रुपये पर मुश्तमिल अपना बजट मंज़ूर करलिया ।

जी एच एम सी के ख़ुसूसी बजट मीटिंग में मयूर मुहम्मद माजिद हुसैन की तरफ़ से बजट की पेशकशी के बाद बजट में हिस्सा लेते हुए मजलिसी और कांग्रेस के कारपोरेटरस ने बजट की भरपूर सताइश की ।

तेलुगु देशम और बी जे पी ने उस को अवाम दुश्ज़्मन क़रार देते हुए मुस्तरिद करदिया । बेहस में हिस्सा लेने की इजाज़त ना दीए जाने पर एम बी टी कारपोरेटर अमजद उल्ल्लाह ख़ां ख़ालिद पोडियम तक पहूंच गए जिन्हें मयूर ने कल बेहस में हिस्सा लेने का मौक़ा देने का वाअदा करते हुए अपनी नशिस्त पर बैठ जाने की ख़ाहिश की लेकिन उन्हों ने आज ही मौक़ा देने पुर इसरार किया जिस पर मयूर की हिदायत पर मार्शलों ने उन्हें इवान से बाहर निकाल दिया।

डिप्टी मयूर डी राजकुमार ने कहा कि ये बजट बजा तौर पर तरक़्क़ियाती सरगर्मियों पर मर्कूज़ किया गया है । ताहम उन्हों ने पुराने
शहर पर ज़्यादा तवज्जा मर्कूज़ करने और शहर को गंदा बस्तियों से पाक बनाने मज़ीद इक़दामात पर ज़ोर दिया । एम आई एम फ़्लोर लीडर नज़ीर उद्दीन ने शहरी तर कुयात के लिए बजट में रखी गई तजावीज़ की सर अहित की ।

तेलुगु देशम के फ़्लोर लीडर संगी रेड्डी सिरिनिवास रेड्डी ने कहा कि ये बजट बढ़ते हुए इफ़रात-ए-ज़र से हम आहंग नहीं है। उन्हों ने जी एच एम सी पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो पेशा वाराना टैक्स और जायदाद टैक्स में इज़ाफे के ज़रीये आम आदमी को बुनियादी सहूलतों की फ़राहमी के बगैर नए बोझ का निशाना बना रहा है ।

बी जे पी के फ़्लोर लीडर बनगारी प्रकाश ने इंतिहाई अहम शख़्सयात वी आई पीज़ से जायदाद टैक्स के बक़ाया जात की वसूली के लिए ख़ुसूसी इक़दामात करने का मुतालिबा किया। जी एच एम सी के कमिशनर एम टी कृष्णा बाबू ने बेहस का जवाब देते हुए कौंसिल को मतला किया कि ये कारपोरेशन 400 करोड़ रुपये के ओवरड्राफ्ट के बोझ से निमट चुका है । नीज़ हुकूमत की तरफ़ से मुख़तस करदा फ़ाज़िल आराज़ीयात की फ़रोख़त के दरेआ 415 करोड़ रुपये के हुसूल की तवक़्क़ो है ।

बादअज़ां मयूर ने मालीयाती साल बराए 2013-14 को मंज़ूर करलिया। मिस्टर माजिद हुसैन ने जी एच एम सी कौंसिल के ख़ुसूसी इजलास से ख़िताब करते हुए कहा कि 3,800 करोड़ रुपये मजमूई मालीयाती बजट में 1,529 करोड़ रुपये की आमदनी और 2,271 करोड़ रुपये के मसारिफ़ का तख़मीना है ।

उन्हों ने आइन्दा साल के बजट में अज़ीम तर बलदिया हैदराबाद कारपोरेशन की तरजीहात बयान करते हुए कहा कि पुराना शहर के तरक़्क़ियाती पैकेज , चारमीनार पैदल राहरू पराजकट और मूसा नदी की सफ़ाई और उस को दुबारा पुरकशिश बनाने के कामों पर तवज्जा मर्कूज़ की गई है ।

मयूर ने कहा कि जायदाद टैक्स में असाफ़ा नहीं किया जा रहा है लेकिन आइन्दा साल के दौरान जायदाद टैक्स की वसूली में 750 करोड़ रुपये का क़ाबिल लिहाज़ इज़ाफ़ा होगा। इस मक़सद के लिए जायदादों का अज़सर-ए-नौ तख़मीना किया जाएगा । रियासती हुकूमत की जायदादों से टैक्स की वसूली और मर्कज़ी जायदादों पर सरवेस टैक्स की वसूली में अज़सर-ए-नौ तख़मीना अंदाज़ी के ज़रीये बड़ी हद तक इज़ाफ़ा किया जाएगा । शहर में फ़्लाई ओवर्स , सड़कों की कुशादगी और जंक्शनस की तामीर-ओ-तज़ईन पर जी एच एम सी के तरक़्क़ियाती मंसूबा के तहत 246.42 करोड़ रुपये ख़र्च किए जाएंगे ।

TOPPOPULARRECENT