Wednesday , December 13 2017

जुनूबी सूडान में अमन बात-चीत ताख़ीर का शिकार

जुनूबी सूडान की वो तमाम पार्टियां जो अब तक इख़तिलाफ़ात का शिकार थीं वो अब दुनिया के सब से नए मुल्क को ख़ानाजंगी से बचाने के लिए रास्त बात-चीत के लिए राज़ी हो गई हैं। याद रहे कि यहां इजारादारी के लिए जंगो जदाल का सिलसिला जारी है जो तेल

जुनूबी सूडान की वो तमाम पार्टियां जो अब तक इख़तिलाफ़ात का शिकार थीं वो अब दुनिया के सब से नए मुल्क को ख़ानाजंगी से बचाने के लिए रास्त बात-चीत के लिए राज़ी हो गई हैं। याद रहे कि यहां इजारादारी के लिए जंगो जदाल का सिलसिला जारी है जो तेल की दौलत से मालामाल है।

हुकूमत और बागियों की एक टीम बात-चीत के लिए पड़ोसी इथोपिया के दारुल ख़िलाफ़ा अदीसअबाबा के एक पाँच सितारा होटल में जमा हुई है। जबकि फ़ौज के तर्जुमान फ़लिप आगर ने बताया कि हमारे पास फ़ौज की तादाद इतनी ज़्यादा है।

कि हम अंदरून 24 घंटे बागियों को शिकस्त दे सकते हैं। यहां के मुक़ाम बोर के नवाही इलाक़ों में लड़ाई के दौरान दबाबों और तोप ख़ानों का भी इस्तेमाल हो रहा है।

TOPPOPULARRECENT