Thursday , December 14 2017

जुबली हाल हैदराबाद पर 36 वीं सालाना गुलाबों की नुमाइश

हैदराबाद रोज़ सुसाइटी जिस की बुनियाद हैदराबाद और सिकंदराबाद के गुलाबों के शाएक़ीन ने डाली थी और जो 36 साल क़बल क़ायम की गई थी ,दोनों शहरों की क़दीम तरीन माहौलियात की अलमबरदार सुसाइटी है जो अवाम में मुख़्तलिफ़ रंगों और मुख़्तलिफ़

हैदराबाद रोज़ सुसाइटी जिस की बुनियाद हैदराबाद और सिकंदराबाद के गुलाबों के शाएक़ीन ने डाली थी और जो 36 साल क़बल क़ायम की गई थी ,दोनों शहरों की क़दीम तरीन माहौलियात की अलमबरदार सुसाइटी है जो अवाम में मुख़्तलिफ़ रंगों और मुख़्तलिफ़ किस्म के गुलाबों की मौजूदगी के बारे में शऊर बेदार करती रही है ।

इस सुसाइटी की पहल हैदराबाद की एक मशहूर शख़्सियत जनाब शाह आलम ख़ान और उन के दोस्तों पी ऐस राव-ओ-दीगर ने रखी थी । आज इस रिवायत को नवाब अहमद आलम ख़ान और उन के दोस्त सुसाइटी के जवाइंट सेक्रेटरी विजए कांत बरक़रार रखे हुए हैं ।

जुबली हाल पब्लिक गार्डन में 36 वीं सालाना गुलाबों की नुमाइश मुनाक़िद की जा रही है । रोज़ शो की ख़ुसूसीयत ये है कि इस में मुख़्तलिफ़ रंगों और इक़साम के 100 से ज़्यादा गुलाब पूरे जुबली हाल में फैले हुए नज़र आयेंगे ।

36 वीं सालाना गुलाबों की नुमाइश में शहर के मुख़्तलिफ़ गोशों से 100 तंज़ीमें शिरकत कर रही है ।शुरका में सरकारी ज़ेर-ए-इंतिज़ाम इदारे ,माहिरीन बाग़बानी और दीगर कई अफ़राद शामिल हैं ।

TOPPOPULARRECENT