जुवे का रैकेट बे-नक़ाब

जुवे का रैकेट बे-नक़ाब
Click for full image

हैदराबाद 08 अक्टूबर: सेंट्रल क्राइम स्टेशन साइबर क्राइम पुलिस ने जुवे के कारोबार में शामिल चार दलाल सहित एक महिला दलाल को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार लोगों ने पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए साइबर क्राइम पुलिस पर हमला भी किया था।

उपायुक्त पुलिस डेटकटयू विभाग श्री अविनाश मोहंती ने बताया कि साइबर क्राइम की मार्किटिंग इंटेलिजेंस यूनिट ने एक ऑनलाईन संदिग्ध विज्ञापन का पता लगाया और वेब साईट पर मौजूद फोन संख्याओं पर कनेक्ट करते हुए जुवे के कारोबार के रैकेट को बे-नक़ाब करने के लिए विशेष टीम तैयार किया।

वाट्स अप पर लड़कियों के चित्र उपलब्ध कराने वाले व्यक्तियों को सीसीएस पुलिस टीम ने ग्राहक के भेष में माधापुर हाईटेक सिटी, इंडियन ऑयल पेट्रोल पंप की दिशा तलब किया। पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए जाने पर उपेंद्र कुमार यादव, अनीश कुमार जो पेशे से दलाल है पुलिस कांस्टेबल महेश्वर रेड्डी पर अचानक हमला कर दिया और उसे कार से टक्कर देने की कोशिश की। पुलिस ने दो दलालों को गिरफ्तार करते हुए उनकी जांच की जिसमें उन्होंने बताया की रैकेट का सरगना महाराष्ट्र से संबंध रखने वाला सलीम है और उसकी पत्नी इमरान आयशा बेगम इस कारोबार में शामिल है।

Top Stories