Tuesday , December 12 2017

जून 2016 तक डी एससी का इनइक़ाद: श्री हरी

हैदराबाद 29 नवंबर: डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर कडीम श्री हरी ने आज कहा कि रियासती हुकूमत की तरफ से असातिज़ा के तक़र्रुत को यक़ीनी बनाने के लिए डी एससी का जून 2016 तक इनइक़ाद अमल में लाया जाएगा।

उन्होंने अख़बारी नुमाइंदों से कहा कि हमने अहदीदयारों से कहदया हैके वो अज़ला में असातिज़ा की तक़र्रुर तलब जायदादों की क़तई फ़हरिस्त तैयार करें और तादाद का ताय्युन करलीं।

वाज़िह रहे के चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने भी हाल ही में कहा था के रियासत में 20 हज़ार असातिज़ा का तक़र्रुर अमल में लाने के लिए बहुत जल्द आलामीया जारी किया जाएगा और डी एससी का इनइक़ाद अमल में लाया जाएगा जिसमें 1998 और 2000 मैं इमतेहान तहरीर कर चुके उम्मीदवारों को भी एक और मौक़ा दिया जाएगा।

श्री हरी ने तेलंगाना में किसानों से कपास की मुकम्मिल ख़रीदारी ना करने पर मर्कज़ी हुकूमत को तन्क़ीद का निशाना बनाया। उन्होंने कहा कि रियासत के कपास पैदा करने वाले किसान मर्कज़ी हुकूमत की तरफ से अक़ल्ल तरीन इमदादी क़ीमत के ताय्युन के मुंतज़िर हैं और हुकूमत ने इस में ताख़ीर करते हुए उनके लिए परेशानीयों में इज़ाफ़ा कर दिया है।

उन्होंने कहा कि रियासती हुकूमत का अहम प्रोग्राम केजी ता पीजी मुफ़्त तालीम का है और इस को आइन्दा तालीमी साल से कारकरद बनादिया जाएगा।

हाफ़ीयों को बच्चों को मुफ़्त तालीम की फ़राहमी के ताल्लुक़ से उन्होंने कहा कि इस सिलसिले में हालाँकि अहकाम जारी नहीं किए गए हैं लेकिन इस सिलसिले में मुताल्लिक़ा डी ई औज़ को हिदायात जारी कर दी गई हैं।

TOPPOPULARRECENT