Tuesday , January 23 2018

जेटली की अपील: सरकार के इस फैसले में साथ दे जनता तांकि देश का विकास कर पाएं मोदी

नई दिल्ली: 500 और 1000 के नोटों पर बैन लगाने पर देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली ने सरकार के इस फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि सरकार ने इस संदर्भ में बहुत बड़ा फैसला लिया है और कई बड़े फैसले अचानक ही लिए जाते हैं और ऐसे कड़े फैसले आगे भी जारी रह सकते हैं। मोदी द्वारा लिए गए इस फैसले पर जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी देश में रूटीन सरकार नहीं चलाने आए हैं।

मोदी इस देश के विकास के बारे में ही सोचते हैं जिसके लिए वह भविष्य में ऐसे और बड़े फैसले ले सकते हैं। दूरदर्शन के बातचीत के दौरान जेटली ने यह बात स्वीकार करते हुए कहा कि सरकार के इस फैसले से आम जनता को कुछ वक़्त के लिए तकलीफ जरूर होगी लेकिन जल्दी ही सब ठीक हो जायेगा। असली दिक्कत तो उन लोगों को आने वाली है जिन्होंने पिछले काफी वक़्त से काला धन छुपा कर रखा हुआ है। आम नागरिक मोदी के इस फैसले से खुश हैं क्योंकि मोदी जी ने उनसे वादा किया था की वह कालेधन को देश में लाएंगे।

जेटली ने लोगों से अपील की कि उनके पास पड़े 500 और 1000 के नोटों को वह जाकर बैंकों में जमा करा आएं। बैंक तस्सली से उनके नोटों को बदल कर देंगे। इसके साथ इस दिक्‍कत से बचने के लिए ज्यादा से चेक और ड्राफ्ट का इस्तेमाल करें। खरीददारी करते वक़्त भी यह ध्यान में रखें की डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ज्यादा करें।
सरकार के इस फैसले का असर चुनावों पर भी पड़ेगा क्योंकि कालेधन का इस्तेमाल काम होगा और चुनाव ईमानदारी से ही लड़े जा सकेंगे।

जेटली ने जनता से अपील करते हुए कहा कि आम जनता सरकार के ऐसे कदमों को सकारात्मक रूप में ले तांकि जिससे देश के विकास के लिए सरकार को और बड़े फैसले लेने में हौसला मिल सके।

TOPPOPULARRECENT