Sunday , July 22 2018

जेल से राजनितिक विरोधियों पर लालू प्रसाद का हमला, सोने को तपाया जाता है तो क्या होता है?

रांची। चारा घोटाले के एक मामले में रांची की विशेष सीबीआई अदालत के द्वारा दोषी ठहराए जाने के बाद बिरसा मुंडा जेल में बंद आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने आज दूसरा ट्वीट किया जिसमें उन्होंने दार्शनिक अंदाज में लिखा- ‘सोने को तपाया जाता है, तो उसका क्या होता है?’

दरअसल, इस ट्वीट के जरिए लालू प्रसाद यादव अपने चाहने वाले और फॉलोवर्स को यह संदेश देना चाह रहे थे कि फिलहाल वह बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं और यह वक्त उनके लिए वैसा ही है जैसा कि सोने का होता है जो कि आग में तपने के बाद ही खरा सोना बनता है.

इस ट्वीट के जरिए लालू ने अपने राजनीतिक विरोधियों भाजपा और जदयू को भी चेताया कि अगर उन्हें लग रहा हो कि लालू यादव को जेल में बंद कर देने के बाद उनके लिए आगे का रास्ता सरल हो गया है तो वैसा नहीं है. इस ट्वीट के जरिए लालू ने साफ कर दिया कि जेल में सोने की तरह तपने के बाद वह और मजबूत होकर वापस लौटेंगे.

TOPPOPULARRECENT