जेल से रिहा होने के बाद ‘कन्‍हैया’ ने कहा ,हमे देश से नहीं, देश में आज़ादी चाहिए:

जेल से रिहा होने के बाद ‘कन्‍हैया’ ने कहा ,हमे देश से नहीं, देश में आज़ादी चाहिए:

index

नई दिल्‍ली।अंतरिम जमानत पर जेल से रिहा होने के बाद JNU छात्र संघ के सदर कन्‍हैया कुमार ने विश्‍वविद्यालय परिसर में छात्रों के बीच खुलकर अपनी बात रखते हुए केंद्र सरकार और भाजपा एवं उसकी छात्र इकाई एबीवीपी पर जोरदार हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि ‘हमारी किसी के प्रति कोई नफरत नहीं और एबीवीपी के प्रति तो बिल्‍कुल नहीं।’ देश की न्‍यायिक व्‍यवस्‍था पर भरोसा है हमें।इस बार पढ़े कम, झेले ज्‍यादा।पीएम से भारी वैचारिक मतभेद हैं हमारा, हम एबीवीपी को विपक्ष की तरह देखते हैं। जेएनयू पर हमला नियोजित था। हमारा किसान शहीद हो रहे है ,देश से नहीं, देश में आजादी चाहिए। हम भारत में आजादी मांग रहे हैं।सीमा पर शहीद जवानों को हमारा सलाम।लोगों को लड़ाने की कोशिश हो रही है। भुखमरी, अत्‍याचार से आजादी चाहिए। वैज्ञानिक सोच की जरूरत है, पीएम ‘मन की बात’ करते हैं, सुनते नहीं हैं। मेरी मां ने कहा कि हम तो अपना दर्द कहते हैं। देश में जो हो रहा है वह खतरनाक प्रवृति है।आप झूठ को झूठ बना सकते हैं, सच को झूठ नहीं बना सकते।हमारा आंदोलन स्‍वत: स्‍फूर्त।इस संघर्ष को तुम दबा नहीं पाओगे। तुम जितना दबाओगे, हम उतना खड़ा होंगे। हम एबीवीपी, आरएसएस और भाजपा के खिलाफ जमकर खड़े होंगे।

Top Stories