Sunday , December 17 2017

जे पी सी में हाज़िरी से इंकार पर मायूसी

नई दिल्ली, 09 अप्रैल: ( पी टी आई ) बी जे पी लीडर यशवंत सिन्हा ने जो 2G अस्क़ाम की तहकीकात करने वाली मुशतर्का पार्लीमानी कमेटी के रुकन हैं आज वज़ीर ए आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह को एक मकतूब रवाना किया है और कहा कि जे पी सी की रूबरू हाज़िरी से उन के इ

नई दिल्ली, 09 अप्रैल: ( पी टी आई ) बी जे पी लीडर यशवंत सिन्हा ने जो 2G अस्क़ाम की तहकीकात करने वाली मुशतर्का पार्लीमानी कमेटी के रुकन हैं आज वज़ीर ए आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह को एक मकतूब रवाना किया है और कहा कि जे पी सी की रूबरू हाज़िरी से उन के इंकार पर उन्हें हैरत और मायूसी हुई है ।

सिन्हा ने क़ब्ल अज़ीं एक और मकतूब रवाना करते हुए वज़ीर आज़म से कहा था कि वो ख़ुद जे पी सी में हाज़िर होकर अपनी सफ़ाई पेश करें। उन के इस मकतूब पर वज़ीर ए आज़म ने उन्हें ई मेल के ज़रीया मतला किया है कि वो जे पी सी में हाज़िर नहीं होंगे और वो कुछ छुपा भी नहीं रहे हैं।

मिस्टर यशवंत सिन्हा ने कहा कि वो वज़ीर ए आज़म के जवाब से ख़ुश नहीं हैं । वज़ीर ए आज़म ने जो जवाब दिया था इस पर आज सिन्हा ने उन्हें जवाब रवाना करके मायूसी का इज़हार किया है । मकतूब में यशवंत सिन्हा ने कहा कि यक़ीनी तौर पर ये फैसला करना जे पी सी का काम है कि आया आप को बतौर गवाह तलब किया जाये या नहीं लेकिन यही उसूल पी ए सी पर लागू होता है जिस को आप ने पेशकश की थी कि आप उसके रूबरू हाज़िर होने तैयार हैं।

सिन्हा ने कहा कि जब उन्होंने पी ए सी को एक दुरुस्त पेशकश की थी तो अब वो जे पी सी के सामने हाज़िर ना होने में क्यों ग़लत नहीं हैं। सिन्हा ने कहा कि वो इस से इत्तिफ़ाक़ नहीं कर सकते कि आप को या हुकूमत को कोई बात छिपानी नहीं है । अगर ऐसा है तो फिर कई अहम दस्तावेज़ात को जे पी सी से वापस क्यों तलब कर लिया गया है ।

इन दस्तावेज़ात में से बाअज़ को मीडिया ने अवाम के सामने ला दिया था । उन्होंने कहा कि अगर जे पी सी को सिर्फ़ उसे पेश किए गए रिकार्ड की बुनियाद पर ही फैसला करना था तो फिर इस ने कई गवाहों को अपने रू ब रू तलब करके वक़्त ज़ाए किया है ।

TOPPOPULARRECENT