Monday , January 22 2018

जॉनसन एंड जॉनसन पाउडर से होता है कैंसर, अदालत ने कंपनी पर लगाया हर्जाना

अमेरिका की एक अदालत ने मशहूर कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन से कैलिफोर्निया की एक महिला को हर्जाने के तौर पर 70 मिलियन डॉलर यानी लगभग 467 करोड़ रुपए देने को कहा है। बच्चों का सामान बनाने वाली इस कंपनी पर डेबोराह गिआनेचिनी ने अर्जी डाली थी कि जॉनसन एंड जॉनसन बेबी पाउडर से कैंसर होता है। जूरी ने 20 सितंबर को डेबोराह के दायर याचिका पर सुनवाई शुरू की थी।

सुनवाई के दौरान जूरी ने दोनों पक्षों को सुना। 62 साल की डेबोराह ने जूरी को बताया कि मैं 40 साल से जॉनसन एंड जॉनसन के दो टाल्कम पाउडर इस्तेमाल कर रही थी। 2012 में मुझे ओवेरियन कैंसर का पता चला। सर्जरी के दौरान डॉक्टरों ने मेरे ओवरी में इस पाउडर के पार्टिकल्स पाए, जबकि कंपनी इन दोनों पाउडर की मार्केटिंग ‘हाइजीन प्रोडक्ट’ के तौर पर करती है।

डेबोराह के वकील जिम ओंडेर ने कहा कि कंपनी के दस्तावेजों से पता चलता है कि उसे 1970 के दशक से टैल्कम पाउडर के बारे में पता है कि इससे सेहत को नुकसान हो सकता है, फिर भी कंपनी ने प्रोडक्ट पर इसकी वॉर्निंग नहीं दी और सच्चाई छुपाती रही। ओंडेर ने कहा कि देबोराह ने यह मुकदमा पैसे के लिए नहीं किया है। वह चाहती हैं कि दुनिया को यह पता चले कि उनकी बीमारी की वजह यह प्रोडक्ट है। दोनों पक्षों को सुनने के बाद जज बिली रे ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि कंपनी को ग्राहकों की जरा भी परवाह नहीं है। वह आगे से चेतावनी लेवल के साथ प्रोडक्ट बाजार में लाए।

गौरतलब है कि अमेरिका में इस साल ओवेरियन कैंसर के 22 हजार मामले सामने आए हैं। अब तक यहां चार हजार से अधिक कैंसर पीड़ित महिलाओं ने जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी पर केस दर्ज कराया है।

TOPPOPULARRECENT