Wednesday , September 26 2018

जो कहते हैं कि राहुल कुछ नहीं कर सकतेे वेे अंधविश्वासी हैं- शिवसेना

मुंबई। गुजरात विधानसभा में पहले एक घंटे की मतगणना के बाद शुरुआती रूझान में सत्तारूढ़ भाजपा बढ़त बनाए हुए है। हालांकि कांग्रेस का भी प्रदर्शन पहले काफी बेहतर रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस बार बड़े जोश से राज्य में चुनावी जंग में उतरे।

शिवसेना ने भी अपने मुखपत्र सामना में राहुल गांधी की जमकर तारीफ की है। सामना में शिवसेना ने लिखा कि सोनिया गांधी के जाने के बाद अब कांग्रेस में ‘राहुल युग’ की शुरुआत हो चुकी है। राहुल ऐसे समय में पार्टी की कमान संभाल रहे हैं जब पार्टी अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही है। पार्टी में हर स्तर पर काफी गिरावट आई है।

यहां तक कि 2014 में केंद्र में सत्ता से बेदखल होने के बाद वह मुख्य विपक्षी दल होने लायक जीत भी हासिल नहीं कर सकी थी, अब इस युवा कंधे के भरोसे ही देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस का भविष्य है।

सामना ने लिखा कि आखिरी सांस ले रही कांग्रेस को इस बुरे दिन से निकालने की जिम्मेदारी अब राहुल पर है और इसके लिए उनको थोड़ा वक्त देना होगा, खासकर उन्हें जो उनके नेतृत्व क्षमता पर जमकर शोर मचाते हैं।

सामना के जरिए शिवसेना ने कहा कि राहुल गांधी और उनकी पार्टी कांग्रेस से हमारा काफी मतभेद है लेकिन यह मतभेद उसकी दिखावटी विचारधारा से है।

देश के सामने आने वाली चुनौतियों पर उन्हें खुलकर बोलना होगा। राहुल चुनाव परिणाम के बारे में सोचे बगैर लगातार मैदान में डटे रहे और सत्ताधारी दल को तगड़ी चुनौती दी।

अंत में राहुल के समर्थन में शिवसेना ने लिखा कि 60 सालों में देश ने खूब तरक्की की है। कांग्रेस को राहुल पर भरोसा रखना चाहिए। जो कहते हैं कि राहुल कुछ नहीं कर सकते वो अंधविश्वासी हैं।

TOPPOPULARRECENT