Monday , November 20 2017
Home / Delhi News / जो मांग हमने कभी किया ही नहीं उनको उठाया जा रहा है, हम इस्लाम के खिलाफ नहीं हैं: सायरा बानो का भाई

जो मांग हमने कभी किया ही नहीं उनको उठाया जा रहा है, हम इस्लाम के खिलाफ नहीं हैं: सायरा बानो का भाई

नई दिल्ली: हम सुप्रीम कोर्ट में जो केस लड़ रहे हैं वह त्वरित तीन तलाक के खिलाफ है, हम खुद कुरान के अनुसार दिया जाने वाला तलाक चाहते हैं, हमने कभी यह नहीं कहा कि तीन तलाक पर प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए। यह कहना है सायरा बानो के छोटे भाई मोहम्मद अरशद का।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

गौरतलब है कि मोहम्मद अरशद ने ही सायरा बानो की इस समस्या को अदालत तक ले जाने के लिए न केवल प्रेरित किया था बल्कि मामले की तैयारी में भी पूरी मदद की।
न्यूज़ नेटवर्क समूह न्यूज़ 18 के अनुसार अरशद ने कहा कि हमारे केस पर राजनीति शुरू हो गई है, जो मांग हमने कभी किया ही नहीं था, उन्हें उठाया जा रहा है, हम इस्लाम के खिलाफ नहीं हैं. अरशद के अनुसार हम चाहते हैं कि अगर कोई किसी को तलाक देता है तो वह तलाक दे जो कुरान के अनुसार है।

उल्लेखनीय है कि सायरा बानो के छोटे भाई अरशद इंटर पास हैं। वे बताते हैं कि तलाक मिलने के बाद बहन ने पहले गुजारा भत्ता के लिए मामला दर्ज किया था, हमें इस बात की रत्ती भर जानकारी नहीं थी कि तीन तलाक को भी कोर्ट में चुनौती दी जा सकती है। इसी दौरान मुझे शाहबानो मामले के बारे में जानकारी हुई। मैंने इस मामले के बारे में जानकारी एकत्रित करनी शुरू कर दी। इस दौरान मैंने शाहबानो मामले से जुड़े कुछ लोगों से मिलकर भी जानकारी हासिल कीं।

अरशद ने कहा कि हम केवल इतना चाहते हैं कि जो हमारी बहन के साथ हुआ वैसा किसी और बहन के साथ न हो। लेकिन जिस तरह से शाहबानो मामला का राजनीतिक लाभ उठाया गया था, ठीक वैसे ही हमारे मामले में भी किया जा रहा है। यह न हो तो अच्छा है।

इस बीच सायरा बानो का कहना है कि मुझे अधिकार और न्याय चाहिए, इसलिए मैं कोर्ट में आई हूँ। राजनीति से मुझे कोई मतलब नहीं है और न ही मैं चाहती हूं कि मेरे मामले में राजनीति हो, हमें तो जो वैध और इस्लामी तरीका है, उसी के हिसाब से तलाक चाहिए। अदालत परमुझे पूरा भरोसा है।

TOPPOPULARRECENT