Friday , November 24 2017
Home / Bihar/Jharkhand / जो संघ-भाजपा में वो मुहिब्बे वतन, बाकी मुल्क के गद्दार

जो संघ-भाजपा में वो मुहिब्बे वतन, बाकी मुल्क के गद्दार

पटना : बिहार के वज़ीरे आला नीतीश कुमार ने कहा है कि जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन सदर कन्हैया कुमार और दीगर स्टूडेंटस की गिरफ़्तारी कर यूनिवार्सिटी में ज़म्हुरियत का गला घोंटा जा रहा है। उन्होंने वज़ीरे दाखला राजनाथ सिंह के उस बयान को बदकिस्मती बताया, जिसमें उन्होंने कहा था कि जेएनयू को पाकिस्तानी चरमपंथी गुट लश्कर-ए-तैयबा के हाफ़िज सईद का हिमायत हासिल है। नीतीश कुमार ने कहा कि ऐसा माहौल बनाया जा रहा कि जो भी संघ भाजपा की स्ट्रीम से जुड़ा है, वो मुहिब्बे वतन है और बाकी मुल्क के गद्दार।

कन्हैया कुमार को जेएनूय में पार्लियामेंट हमले के मुजरिम अफ़जल गुरु की बरसी पर हुए एक प्रोग्राम के सिलसिले में गिरफ़्तार किया गया है। भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि इस प्रोग्राम में भारत मुखालिफत और पाकिस्तान हिमायत के नारे लगे। भाजपा सदर अमित शाह का कहना है कि मुल्क के किसी भी हिस्से में मुल्क मुखालिफत सरगर्मियां को न सहन किया जाना चाहिए और न सहन किया जाएगा। उन्होंने कहा, “अफ़ज़ल गुरु को सुप्रीम कोर्ट ने सज़ा दी, इसके बाद भी भारत मुखालिफत और पाकिस्तान हिमायती नारे लगे.”

लेकिन नीतीश कुमार ने कहा कि जेएनयू में अगर कोई प्रोग्राम हो रहा है, इसका मतलब ये नहीं कि वहां के स्टूडेंट्स और प्रोफ़ेसर उसका हिमायत करते हैं। उन्होंने कहा कि आरएसएस से जुड़े स्टूडेंट्स तंज़ीम एबीवीपी के इशारे पर सबकुछ किया जा रहा है। नीतीश ने सवाल किया किया, मोदी सरकार अफ़ज़ल गुरु की बात कर रही है जबकि जम्मू कश्मीर एसेम्बली में कुछ आज़ाद एमएलए अफ़ज़ल गुरु के हक में तजवीज लाते रहे हैं। भाजपा लीडर राम माधव सरकार बनाने के लिए उन एमएलए से क्यों मिले। उन्होंने इल्ज़ाम लगाया कि एक तरफ मुल्क के गद्दार का मुकदमा करते हैं और दूसरी तरफ़ कश्मीर में सरकार चलाते हैं।

TOPPOPULARRECENT