Saturday , August 18 2018

झारखंड एसेम्बली इंतिख़ाब का पहला फेस : 13 सीटों पर रिकॉर्ड 62% वोट

एसेम्बली इंतिख़ाब के पहले फेस में 13 सीटों पर मंगल को 61.92 फीसदी वोटिंग हुआ। नक्सलियों के इंतिख़ाब बायकोट के बावजूद बड़ी तादाद में वोटर घरों से निकले अौर वोट डाला। इसके साथ ही 199 उम्मीदवारों के किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया।

एसेम्बली इंतिख़ाब के पहले फेस में 13 सीटों पर मंगल को 61.92 फीसदी वोटिंग हुआ। नक्सलियों के इंतिख़ाब बायकोट के बावजूद बड़ी तादाद में वोटर घरों से निकले अौर वोट डाला। इसके साथ ही 199 उम्मीदवारों के किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया।

इन सीटों पर साल 2005 के एसेम्बली इंतिख़ाब में 54.29 फीसद और 2009 में 55.92 फीसद वोटिंग हुई थी। मनिका के नौनाडीह बूथ पर बम मिलने के बाद खुले में वोटिंग हुआ। वहीं नक्सलियों के गढ़ बिशुनपुर के रिहाईशी वोटिंग सेंटर पर सेक्युर्टी के नज़रिये से खुले में वोटिंग कराया गया। चीफ़ एलेक्शन ओहदेदार पीके जाजोरिया ने कहा कि आखरी रिपोर्ट आने पर वोटिंग फीसद बढ़ सकता है।

दो बूथों पर होगा दुबारा वोटिंग

छतरपुर के बूथ नंबर 191 और 192 पर दुबारा वोटिंग होगा। जाजोरिया ने बताया कि यहां दो गुटों की आपसी झड़प में कंट्रोल यूनिट टूट गई। उस वक़्त तक 120 और 74 वोट पड़े थे। इस मामले को लेकर एफआईआर दर्ज कराई गई है।

3 बूथों पर बायकोट

चतरा के बूथ नं. 127, 128 और 129 के वोटरों ने वोट का बायकोट किया। यहां पर एक भी वोट नहीं पड़ा।

26 ईवीएम खराब

मॉक पोल के बाद 26 ईवीएम खराब पाई गईं, जिसे वक़्त रहते बदल दिया गया। इससे कुछ देर वोटिंग मुतासीर हुआ।

पुलिस कैंप पर फायरिंग

नौडीहा बाजार इलाक़े के कुहकुह कला स्कूल के पुलिस कैंप पर मंगल शाम नक्सलियों ने फायरिंग की। इस पर बीएसएफ जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की। दोनों तरफ से करीब 30 राउंड गोलियां चलीं। फायरिंग उस वक़्त हुई, जब सेक्युर्टी मुलाज़िम वोटिंग कराकर लौट रहे थे। डीएसपी समीर तिर्की ने वाकिया की तसदीक़ की है। इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

TOPPOPULARRECENT