झारखंड का नीचे से तीसरा मुकाम : हेमंत सोरेन

झारखंड का नीचे से तीसरा मुकाम : हेमंत सोरेन
वजीरे आला हेमंत सोरेन ने बुध को हुकूमत के कामकाज पर मैराथन बैठक की। सुबह 10.30 बजे से शुरू हुई बैठक देर रात तक चली। इस दौरान सीएम ने सात महकमा की जायजा ली। महकमा की सुस्त चाल को देख सीएम ने नाराजगी भी जतायी।

वजीरे आला हेमंत सोरेन ने बुध को हुकूमत के कामकाज पर मैराथन बैठक की। सुबह 10.30 बजे से शुरू हुई बैठक देर रात तक चली। इस दौरान सीएम ने सात महकमा की जायजा ली। महकमा की सुस्त चाल को देख सीएम ने नाराजगी भी जतायी।

उन्होंने साफ-साफ कहा कि अफसर परफार्म करें नहीं तो कार्रवाई होगी। सीएम ने कहा कि काम के लिए अब वक़्त ज्यादा नहीं है। बिजली की हालत पर भी सीएम ने फिक्र जतायी। उन्होंने कहा कि जो कंपनियां बनी हैं, उसमें तकर्रुरी की अमल जल्द पूरी की जाये। बैठक को खिताब करते हुए उन्होंने कहा कि मरकज़ हुकूमत की तरफ से मंसूबों के तहत हासिल रकम का 100 फीसद इस्तेमाल महकमा यकीन करे। उन्होंने आगामी तीन माह में मंसूबों के ज़्यादातर की हिदायत दिया। सीएम ने पंचायती राज, फ्लाह बोहबुद, मजदूर, सड़क, तूअनाई, देह काम महकमा और कानकुनी और मायन्स महकमा की मंसूबों की तजवीज की। बैठक में चीफ़ सेक्रेटरी सजल चक्रवर्ती, सुधीर प्रसाद, वजीरे आला के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी सुखदेव सिंह, फायनेंस सेक्रेटरी एपी सिंह के अलावा मुखतलिफ़ महकमा के सेक्रेटरी और दीगर ओहदेदार मौजूद थे।

Top Stories