Wednesday , December 13 2017

झारखंड के हक के लिए मिल कर लड़ें लड़ाई : बाबूलाल

झाविमो सरबराह बाबूलाल मरांडी ने कहा कि रियासत की आवाम ने ठान लिया है कि झारखंड में ज़मीन तहविल अराजी बिल को लागू नहीं होने देंगे। मरकज़ी हुकूमत आवाम की आवाज को दबाने के लिए तहरीक करने वालों के खिलाफ कानून ला रही है। लेकिन उसे पता नही

झाविमो सरबराह बाबूलाल मरांडी ने कहा कि रियासत की आवाम ने ठान लिया है कि झारखंड में ज़मीन तहविल अराजी बिल को लागू नहीं होने देंगे। मरकज़ी हुकूमत आवाम की आवाज को दबाने के लिए तहरीक करने वालों के खिलाफ कानून ला रही है। लेकिन उसे पता नहीं है कि झारखंड की अवाम इससे घबराने वाली नहीं है।

तहरीक करने वाले जेल जाने को तैयार है। झारखंड का तारीख भी इसका गवाह रहा है। झारखंड के हक के लिए हमें मिल कर लड़ाई लड़नी है। उन्होंने कहा कि झारखंड बना तो लगा कि यहां के लोगों को हिस्सेदारी मिलेगी। यहां पर जन्मे व पढ़े लिखे लोगों को सरकारी सर्विस में मौका मिलेंगे, लेकिन हुकूमत यहां के मुक़ामी लोगों को असल हक़ से महरूम करना चाहती है। दिल्ली में बैठे लोग झारखंड को चला रहे हैं। रघुवर दास, अमित शाह के दास बन कर रह गये हैं।

TOPPOPULARRECENT