Tuesday , November 21 2017
Home / Bihar/Jharkhand / झारखंड : भाजपा का नया अध्यक्ष आरएसएस का पसंदीदा होगा

झारखंड : भाजपा का नया अध्यक्ष आरएसएस का पसंदीदा होगा

रांची : भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष के चयन में आरएसएस की अहम भूमिका होगी। ताला मरांडी के इस्तीफे की पेशकश के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की तलाश तेज हो गई है। सबकी सहमति से एक नाम का चयन करने से पूर्व संघ की पसंद-नापसंद का पूरा ख्याल रखा जाएगा। संघ के सूत्र बताते हैं कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पद पर ताला मरांडी की ताजपोशी में इस प्रक्रिया को नजरंदाज किया गया था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा।

अमूमन संघ और उससे जुड़े तमाम संगठनों में जिम्मेदारी वाले बड़े पदों पर तैनाती के पहले आपस में राय-मशविरा किया जाता है। इसके लिए राज्यस्तर पर एक समन्वय समिति है, जो अहम फैसले पर अंतिम मुहर लगाती है। इस बार यह चूक नहीं हो, इसके लिए संघ की रायशुमारी के बगैर निर्णय नहीं होगा।

फिलहाल ताला मरांडी के विकल्प के तौर पर कई नामों पर विचार चल रहा है। सबसे ज्यादा जोर किसी कद्दावर संताली नेता को इस पद पर बिठाने का है। इसकी वजह भी है। प्रमुख विपक्षी दल झामुमो यह प्रचारित करने में जुट गया है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को आदिवासी हित की परवाह नहीं है।

इससे पूर्व सिर्फ एक आदिवासी (दुखा भगत) को प्रदेश अध्यक्ष सरीखा अहम सांगठनिक पद मिला था। इस तबके से आनेवाले ताला मरांडी दूसरे अध्यक्ष हैं, लेकिन पद संभालने के महज तीन माह के भीतर उनसे इस्तीफा ले लिया गया।

झारखंड की रघुवर सरकार में मंत्री डॉ. लुइस मरांडी, नाला के विधायक रहे सुनील सोरेन, चाईबासा के सांसद लक्ष्मण गिलुआ के नाम भी ताला मरांडी के विकल्प के रूप में पूर्व से लिए जाते रहे हैं। इस दौड़ में नए नाम भी जुड़ गए हैं। इसमें विधानसभा अध्यक्ष डॉ. दिनेश उरांव तक शामिल हैं। भाजपा का एक प्रभावी धड़ा पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा का नाम भी आगे कर रहा है।

झारखंड भाजपा के अध्यक्ष ताला मरांडी शुक्रवार शाम दिल्ली से रांची लौट आए। वह शनिवार को खूंटी में आजादी की 70 वीं वर्षगांठ पर आयोजित होनेवाले समारोह में गृहमंत्री राजनाथ सिंह के साथ मंच साझा करेंगे। इससे पूर्व उन्होंने अपनी बात रखने के लिए दिल्ली में भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की

TOPPOPULARRECENT