Wednesday , July 18 2018

झारखंड में 500 बिलियन डॉलर का सरमायाकारी करेगा अमेरिका

जमशेदपुर : अमेरिका झारखंड में 500 बिलियन डॉलर का इन्वेस्ट करेगा। इंडियन करेंसी में यह रक़म 33,675 करोड़ रुपये है। झारखंड के बीमार पड़े इंडस्ट्री को फिर से ज़िंदा करने में अमेरिका मदद करेगा। जमशेदपुर में टिस्को व टाटा मोटर्स की एंसिलियरी इंडस्ट्री को अमेरिका के लिए पार्ट्स बनाने का आर्डर दिया जायेगा। खासकर मर्सिडीज बेंज, राल्स रॉयस व फॉक्स वैगन गाड़ियों के लिए यहां एंसिलियरीज से पार्ट्स खरीदे जायेंगे। यह बातें अमेरिकी कांसुलेट जेनरल क्रेग हॉल ने कही। वह जुमा को जमशेदपुर में द इंडो अमेरिकन चेंबर अॉफ कॉमर्स(आइएसीसी) की तरफ से बैठक को खिताब कर रहे थे।

आइएसीसी इंडो-यूएस में कारोबार बढ़ाने का आला अदारा है। यूएस कांसुलेट जेनरल ने ट्रेड, कॉमर्स व दोनों तरफ से कारोबार की इम्कानात के कई नुक़्तों पर रौशनी डाला। यूएस कांसुलेट जेनरल ने जमशेदपुर दौरे के दौरान टाटा स्टील का घूमने के साथ-साथ जुस्को, टिमकेन इंडिया, एक्सएलआरआइ को देखा और वहां के कामकाज को समझने की कोशिश की। यूएस कांसुलेट जेनरल क्रेग हॉल ने रुसी मोदी सेंटर फॉर एक्सीलेंस में जाकर टाटा के तारीख को जाना।

एक्सएलआरआइ में यहां के तालीमी सरगर्मियों के अलावा तालिबे इल्म और फैकल्टी से मुलाकात की और अमेरिका के साथ किस तरह के तालीमी ताल्लुक़ात भारत से क़ायम हो सकते हैं, इस पर भी ख्यालों का लें दें किया। आइएसीसी के एसपी सिंह ने बताया कि इसका अहम मक़सद झारखंड में यूएस के साथ दोनों तरफ से इम्कानात की तलाश करना है। यूएस झारखंड में 500 बिलियन डॉलर इन्वेस्ट करना चाहता है़ यहां की एंसिलियरी कारोबार को इसका फायदा मिलेगा। यूएसए से बड़े पैमाने पर वर्क अॉर्डर मिलेगा। बीमारू इंडस्ट्री के नया ज़िन्दगी देने के लिए भी दोनों मुल्क़ मिलकर मंसूबा बनायेंगे। इससे मेक इन इंडिया मुहीम को मदद मिलेगी़।

 

TOPPOPULARRECENT