Saturday , November 18 2017
Home / Bihar/Jharkhand / झारखण्ड को नहीं बनने देंगे आरएसएस की प्रयोगशाला : भाकपा माले

झारखण्ड को नहीं बनने देंगे आरएसएस की प्रयोगशाला : भाकपा माले

रांची : भाकपा माले के रियासती सेक्रेटरी जनार्दन प्रसाद न कहा की सुनहरे ख़्वाबों का सब्ज्बाग दिखा कर झूठे वादों के सहारे बनी मोदी सरकार की असलियत की पोल खुलने लगी है. अपनी चौतरफा नाकामियों पर पर्दा डालने के लिए यह सरकार लूट, झूठ, हिंसा की सियासत को बढ़ावा दे रही है मुल्क के दलितों व आदिवासियों को साजिश के तहत केस में फंसाया जा रहा है. झारखण्ड की सरकार भी कायदे कानून को ताक पर रख कर कॉर्पोरेट घरानों को फायदा पहुंचा रही है. मिस्टर प्रसाद जुमेरात को भाकपा माले रांची जिला के पांचवें कांफ्रेंस को खिताब कर रहे थे.
शहीद महेंद्र सिंह भवन में कांफ्रेंस का इफ्तिताह करते हुए मिस्टर प्रसाद ने कहा की झारखण्ड को संघ की लेब्रोटरी नहीं बनने देंगे। बिरसा मुंडा, भगत सिंह, आंबेडकर और महेंद्र सिंह की विरासत को आगे बढ़ाना वक़्त की मांग है. कांफ्रेंस की सदारत पांच मेम्बर सदर मंडल ने किया। इसमें अजब लाल सिंह, संतोष मुंडा, जगमोहन महतो, गौतम मुंडा शामिल थे.

कांफ्रेंस में 125 नुमायन्दों ने हिस्सा लिया। नुमायन्दगी सेशन में 31 नुमायन्दे ने अपने ख्याल रखे. आखरी सेशन में 17 मेंबर जिला कमेटी की तशकील किया गया. इसमें भुनेश्वर केवट को दूसरी बार जिला सेक्रेटरी चुना गया. कमेटी मेंबर के तौर में सुखदेव मुंडा, संतोष मुंडा, जगमोहन महतो, भीष्म महतो,सुदामा खालको , बुधुवा उरांव शान्ति सेन, बाबु राम गंझू, अमल्कांग महतो , महवीर मुंडा, चुने गए, कांफ्रेंस के पहले रांची के जयपाल सिंह स्टेडियम से यात्रा निकाली गयी.

TOPPOPULARRECENT