Thursday , December 14 2017

झूठे हैं मोदी सरकार की मुस्लिम महिलाओं से सहानुभूति के दावे: ओवैसी

नांदेड़: अखिल भारतीय मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असद ओवैसी ने नांदेड़ में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार की मुस्लिम महिलाओं से सहानुभूति के दावों में कोई सच्चाई नहीं है. केवल उत्तर प्रदेश के चुनाव में सफलता पाने के लिए मुसलमानों के खिलाफ देश भर में नफरत का माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्रदेश 18 के अनुसार, अखिल भारतीय मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन की जानिब से नांदेड़ की ईदगाह में एक जनसभा ‘शरियत के संरक्षण’ के विषय पर आयोजित किया गया . इजलास में एम आई एम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के अलावा विभिन्न मतों के विद्वानों को आमंत्रित किया गया था. बैठक में तीन तलाक और बहु विवाह के मुद्दे पर मोदी सरकार पर मुसलमानों के धार्मिक मामलों में हस्तक्षेप का आरोप लगाया गया. ओवैसी ने मुस्लिम महिलाओं के साथ हमदर्दी के नाम पर भाजपा की ओर से शरई मामलों में की जा रही हस्तक्षेप की निंदा की.

सभा के दौरान दिल्ली के जेएनयू के छात्र नजीब अहमद के लापता होने की घटना का भी जिक्र किया गया. इसी तरह भोपाल जेल से भागने वाले सिमी कार्यकर्ताओं के कथित एनकाउंटर पर भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि यह सब घटनाएं मुसलमानों को भयभीत करने और उन्हें अलग करने की साजिश है. देश के मौजूदा हालात में मुसलमानों को अपने खेमे में एकता पैदा करने की अपील की गई. वहीं पाकिस्तान के साथ जारी तनाव के लिए मोदी सरकार की नीतियों को जिम्मेदार बताया.

TOPPOPULARRECENT