Saturday , November 25 2017
Home / India / टीचर और उनकी बीवी ने स्टूडेंट को किया टॉर्चर, नहीं दे पाया एग्जाम

टीचर और उनकी बीवी ने स्टूडेंट को किया टॉर्चर, नहीं दे पाया एग्जाम

अजमेर.। मेयो कॉलेज स्कूल में एक स्टूडेंट को फिर तशददु का सामना करना पड़ा , भूखा रखने और बे इज़्ज़त करने का मामला सामने आया है। मुतास्सिरा स्टूडेंट की शिकायत पर राजस्थान ‘The State Commission for Protection of Child Rights’ ने अजमेर को जांच सौंपी है। कमीशन के सदर विभोर रॉय झा ने रविवार को मुतास्सरा स्टूडेंट और परिवार के बयान लिए और मेयो इंतजामिया से बातचीत की। जयपुर रिहाइशी कृष्णा भाटी का बेटा अरिंजय सिंह मेयो कॉलेज स्कूल में क्लास 11 का स्टूडेंट है। पिछले साल 5 नवम्बर को अरिंजय और उसके कुछ साथियों ने मिलकर हॉस्टल के सीसीटीवी कैमरे से छेड़छाड़ कर उसकी दिशा बदली दी। जानकारी मिलने पर हाउस मास्टर ने गैर मुहज़्ज़ब भाषा का इस्तेमाल करते हुए अरिंजय से मारपीट की।

अरिंजय ने अपने बयान में बताया है कि उसने अपनी गलती मानते हुए लिखित में माफी भी मांग ली थी। लेकिन इसके बावजूद हाउस मास्टर और उनकी बीवी ने बदसलूकी की। उसे अंडरवियर-बनियान में घसीटते हुए ले जाकर बिल्डिंग के सामने खड़ा कर दूसरे स्टूडेंट्स व उनके वालदैन के सामने हंसी का अहल बनाया गया। नहीं दे सका एग्जाम कृष्णा भाटी ने कमीशन को दी गई शिकायत में बताया है कि उसके बेटे को हाउस मास्टर, उपाचार्य और प्रिंसिपल की ओर से वक़्त-वक़्त पर बिना वजह ज़हनी रूप से तशद्दुद और शर्मिंदा किया जा रहा है। अरिंजय को सशमाही एग्जाम में जियोग्राफी का एग्जाम से पहले प्रिंसिपल के रूम में बुलाकर तशद्दुद किया गया। इससे वह अच्छी तैयारी होने के बाद भी एग्जाम नहीं दे सका।

TOPPOPULARRECENT