Wednesday , January 17 2018

टीम की कामयाबी असल मक़सद : सहवाग

हिंदुस्तानी क्रिकेट टीम से बाहर रहने वाले ओपनर वीरेंद्र सहवाग समझते हैं कि इन्फ़िरादी कामयाबी से कहीं ज़्यादा एहमियत की हामिल टीम की कामयाबी है।

हिंदुस्तानी क्रिकेट टीम से बाहर रहने वाले ओपनर वीरेंद्र सहवाग समझते हैं कि इन्फ़िरादी कामयाबी से कहीं ज़्यादा एहमियत की हामिल टीम की कामयाबी है।

सहवाग जोकि क़ौमी टीम में वापसी केलिए कोशिश कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों के इन्फ़िरादी बेहतर मुज़ाहरा से कहीं ज़्यादा एहमियत की हामिल टीम की मजमूई कामयाबी है। सहवाग के मुताबिक‌ वो उस वक़्त ख़ुश होते हैं जब उनके 40 या 50 रंस‌ की बदौलत टीम कामयाब होजाती है ना कि सेंचुरी स्कोर करने के बावजूद टीम को हार‌ हो।

TOPPOPULARRECENT