Friday , December 15 2017

टी आर ऐस लीडर का इश्तिआल अंगेज़ ब्यान

करीमनगर,१० जनवरी (फैक्स) मुहतरमा आमना बेगम रियास्ती नायब सदर टी डी पी अक़ल्लीयती सेल ने लक्ष्मी नगर करीमनगर मैं मुनाक़िदा पार्टी कारकुनों के इजलास में कहा कि अटाला राजिंदर टी आर ऐस फ़्लोर लीडर का तेलंगाना टी डी पी कारकुनों को निज़ा

करीमनगर,१० जनवरी (फैक्स) मुहतरमा आमना बेगम रियास्ती नायब सदर टी डी पी अक़ल्लीयती सेल ने लक्ष्मी नगर करीमनगर मैं मुनाक़िदा पार्टी कारकुनों के इजलास में कहा कि अटाला राजिंदर टी आर ऐस फ़्लोर लीडर का तेलंगाना टी डी पी कारकुनों को निज़ाम दौर के रज़ाकारों से तशबीया देना एक निहायत बद बख्ता ना अमल है जिस की जितनी भी मुज़म्मत की जाय कम है और टी डी पी इजलास में इस ताल्लुक़ से एक क़रारदाद मंज़ूर की गई जिस में रीटाला राजिंदर को इंतिबाह दिया गया कि इस तरीक़ा की बयानबाज़ी से गुरेज़ करें। इस से मुस्लिम अक़ल्लीयत की दिल शिकनी होती है। टी आर ऐस लीडर के गै़रज़रूरी रिमार्कस से टी आर इसके अज़ाइम का पता चलता है जबकि ख़ुद टी आर इसके सरबराह के सी आर का आंधरा के विजयानगरम ज़िला के बोबली हलक़ा से ताल्लुक़ है जबकि टी आर ऐस सरबराह आंधरा से आकर उन के आबा-ए-ओ- अज्दाद करीमनगर ज़िला में बस गई। इस तरीक़े से टी आर ऐस सरबराह को अलैहदा तेलंगाना काज़ के लिए लड़ने का कोई हक़ हासिल नहीं ही। तेलंगाना टी डी पी कारकुनों की कसीर तादाद का ताल्लुक़ ,इन का पैदाइशी मुक़ाम तलंगाना है और अलैहदा तेलंगाना काज़ के लिए जद्द-ओ-जहद करना इन का पैदाइशी हक़ है।

टी डी पी का रुकन जो तेलंगाना में पैदा हुए वो अमरीका या इंगलैंड में पैदा नहीं हुई। किसानों के मसाइल के हल केलिए चंद्रा बाबू नायडू की पैदल यात्रा एक जमहूरी अमल है। इस में मुदाख़िलत करते हुए टी आर एस कारकुनों की तरफ़ से बदअमनी फैलाना जमहूरी उसूलों के मुग़ाइर है। तेलंगाना इलाक़ा की सारी जमातों की मुशतर्का काविशों के ज़रीया अलैहदा रियासत तलंगाना का हुसूल मुम्किन है। इस इजलास में शिरकत करने वाले हफ़सा नसीब , सरी निवास, हसन मुहम्मद , नारायण रेड्डी, एज़ाज़ फ़ातिमा , रमेश और दीगर क़ाइदीन ने शिरकत की।

TOPPOPULARRECENT