Saturday , April 21 2018

टी वी इश्तेहारात(विज्ञापन) के ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाई के लिए इख़्तेयारात ज़रूरी : अम्बिका सोनी

मर्कज़ी वज़ीर इतेलाआत-ओ-नशरियात ( सूचना ए‍ंव प्रसारण मंत्री) अम्बिका सोनी ने आज टेलीवीज़न चैनल्स की जानिब से काबिल एतराज़ इश्तेहारात (विज्ञापन) के नशरिया पर सख़्त कार्रवाई करने केलिए अरकान पार्लियामेंट की ताईद ( मदद) तलब की। अम्बिका

मर्कज़ी वज़ीर इतेलाआत-ओ-नशरियात ( सूचना ए‍ंव प्रसारण मंत्री) अम्बिका सोनी ने आज टेलीवीज़न चैनल्स की जानिब से काबिल एतराज़ इश्तेहारात (विज्ञापन) के नशरिया पर सख़्त कार्रवाई करने केलिए अरकान पार्लियामेंट की ताईद ( मदद) तलब की। अम्बिका सोनी ने लोक सभा में वकफ़ा-ए-सवालात के दौरान ये अपील की जबकि उन पर टी वी चैनल्स के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने के मुतालिबात की बौछार की गई क्योंकि इन इश्तेहारात (विज्ञापन) से ख्वातीन ( औरतें, महिलायें) की तहक़ीर ( बेइज़्ज़ती) और तौहीन ( अपमान) होती है।

अम्बिका सोनी ने कहा कि 15 मुख़्तलिफ़ ( अलग, विभिन्न ) मवाद ( प्रमाण) की जांच के लिए मौजूद हैं। हुकूमत पर कई मौक़े पर तन्क़ीद की गई है कि वो ख़ाती ( जान बूझ कर अपराध करने वाला) ज़राए इबलाग़ को इश्तेहार (विज्ञापन) जारी करती है। उन्होंने अरकान पार्लीयामेंट से अपील की कि वो सख़्त कार्यवाई के लिए वज़ारत इतेलाआत-ओ-नशरियात (सूचना एवं प्रसारण मंत्री) के हाथ मज़बूत करें। उन्होंने कहा कि वो किसी मख़सूस चैनल या अख़बार के ख़िलाफ़ कार्यवाई हिदायत जारी नहीं कर सकतीं क्योंकि इन्हें क़ानून के दायरे में रह कर काम करना पड़ता है।

उन्होंने अरकान पार्लियामेंट से अपील की कि वो उनकी वज़ारत को ज़्यादा इख़्तेयारात अता करें ताकि टी वी चैनल्स और अख़बारात में काबिल एतराज़ इश्तेहारात(विज्ञापन) के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई कर सकें।

TOPPOPULARRECENT