Monday , December 18 2017

टेट्रा ट्रक ख़रीदारी के ख़िलाफ़ अनटोनी ने पहले आवाज़ उठाई

टेट्रा ट्रकों की ख़रीदारी में धांदली और बदउनवानी ( नियम के खिलाफ/ विरुद्व) को रोकने और इस की तहक़ीक़ात करने के लिए ख़ातिरख़वाह इक़दामात ( मनचाहा) ना करने के इल्ज़ामात से दो-चार वज़ीर-ए-दिफ़ा ( रक्षा मंत्री) ए के अनटोनी वो पहले शख़्स ( व्यक़

टेट्रा ट्रकों की ख़रीदारी में धांदली और बदउनवानी ( नियम के खिलाफ/ विरुद्व) को रोकने और इस की तहक़ीक़ात करने के लिए ख़ातिरख़वाह इक़दामात ( मनचाहा) ना करने के इल्ज़ामात से दो-चार वज़ीर-ए-दिफ़ा ( रक्षा मंत्री) ए के अनटोनी वो पहले शख़्स ( व्यक़्ती) हैं, जिन्होंने इस मुआमला में आवाज़ उठाई और 2008 में हिंदूस्तानी फ़ौज के लिए इन ट्रकों की ख़रीदारी पर रोक लगाई जबकि ये सिलसिला 22 साल से जारी था।

दिफ़ाई ख़रीदारी कौंसल की जो मीटिंग 26 सितंबर 2008 को मुनाक़िद हुई थी, इसके रिकार्ड से इन्किशाफ़ ( ज़ाहिर) होता है कि अनटोनी ने ये सवाल किया था कि जनरल स्टाफ़ की जरूरतों की तकमील के तहत 1986 से अब तक यानी दो दहिय गुज़र जाने के बाद भी फ़ौज के लिए एक ही कंपनी से टेट्रा ट्रकों की ख़रीदारी क्यों हो रही है।

TOPPOPULARRECENT