Sunday , July 22 2018

ट्यूशन टीचर ने छात्र को बेरहमी से पीटकर चमड़ी उधेड़ी, टीचर फरार

जमशेदपुर : विजया गार्डेन में ट्यूशन पढ़ाने वाले एक शिक्षक ने आठवीं के छात्र को इतनी बेरहमी से पीटा कि उसकी जांघ व हाथ की चमड़ी उधड़ गयी. छात्र का इलाज एमजीएम अस्पताल में किया जा रहा है. आरोपी शिक्षक पर बिरसानगर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. शिक्षक फरार है, पुलिस उसे गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है. बिरसानगर जोन नंबर 3 निवासी केएसएमएस के 8वीं का छात्र किशन पड़ोस के ही शिक्षक पुष्पक महतो के पास ट्यूशन पढ़ने जाता था. पुष्पक महतो एलआइसी का कर्मचारी होने के साथ ही ट्यूशन भी पढ़ाता है. वह अपने घर के बजाय विजया गार्डेन में रहने वाले एक छात्र इंद्रनील के घर ही किशन को भी पढ़ाता था.

गुरुवार को इंद्रनील के घर जब वह पहुंचा तो पाया गया कि दोनों बच्चे हैं, लेकिन इंद्रनील के माता-पिता घर में नहीं थे. इसके बाद पुष्पक महतो ने किशन से पूछा कि स्कूल में फिजिक्स के टेस्ट का पेपर दिखाअो, इस पर किशन ने कहा कि अभी पेपर नहीं मिला हैं. तब पुष्पक महतो ने कहा कि उसे जानकारी है कि पेपर मिल गये हैं, लेकिन तुम दिखा नहीं रहे हो. इसके बाद किशन ने कहा कि किसी भी स्टूडेंट को अभी पेपर नहीं मिला है, आप चाहें तो पता कर सकते हैं.

इसके बाद पुष्पक महतो ने एक छड़ी से किशन की पिटाई शुरू कर दी. उसके हाथ, पांव, जांघ पर तब तक मारता रहा जब तक वह जमीन पर नीचे नहीं गिर गया. जब किशन जमीन पर नीचे गिर गया तो उसके पेट पर भी उसने लात से मारा. साथ ही उसने किशन को यह भी धमकी दी कि अगर अपने माता-पिता को पिटाई के बारे में बताया तो उसकी खैर नहीं है. कहा कि वह जानता है कि उसके माता-पिता किसी भी हाल में उसी के पास ट्यूशन पढ़ने भेजेंगे, लेकिन अभिभावक को शिकायत करने के बाद जब वह दुबारा आयेगा तो इससे भी ज्यादा पिटाई खायेगा. इसके बाद किशन अपने घर चला गया अौर अपने माता-पिता को कुछ नहीं बताया. वह दर्द बरदाश्त करते हुए रात को सो गया, लेकिन उसकी बहन ट्विंकल ने सोते वक्त भाई के जख्म देखे अौर पिता को इसकी जानकारी दी. इसके तत्काल बाद उसे इलाज के लिए टीएमएच भेजा गया. यहां बताया गया कि यह पुलिस केस है, उसे एमजीएम में इलाज के लिए ले जायें.

यहां जब किशन को लाया गया तो एमजीएम में भी कहा गया कि पहले पुलिस के पास जायें. रात में ही बिरसानगर थाने में शिकायत दर्ज करायी गयी. यहां जब फोन से आरोपी शिक्षक से पुलिसकर्मियों ने पिटाई के बारे में पूछा, तो शिक्षक ने कहा कि बेकार में मजाक न करें. सुबह का इंतजार किया गया. छात्र के परिजनों ने कहा कि सुबह में आरोपी शिक्षक खुद उनके घर आया अौर हमें धमकाया. शिक्षक की बातों को छात्र की बहन ने रिकाॅर्ड कर ली है. इसके बाद सभी बिरसानगर थाने पहुंचे. यहां थाना प्रभारी को यह रिकॉर्डिंग भी सुनाई गयी.

शिक्षक के जाने के बाद झारखंड छात्र मोरचा के नेता सुनील गुप्ता के नेतृत्व मेंकिशन के पिता मुकेश कुमार सिंह बिरसानगर थाने पहुंचे व थाना प्रभारी को पूरी बात बतायी. किशन का जख्म देखने के बाद थाना प्रभारी ने तुरंत एफआइआर दर्ज कर आरोपी शिक्षक की गिरफ्तारी की पहल शुरू की. पुलिस शिक्षक के घर गयी तो पत्नी अौर पिता ने कहा कि वह सुबह से ही बाहर निकला हुआ है. पुलिस उसे गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है. थाना प्रभारी ने कहा कि टीचर ने जिस तरह की हरकत की है अक्षम्य है. प्रथम दृष्टया वह साइको लग रहा है.

TOPPOPULARRECENT