Tuesday , January 23 2018

ट्रम्प और हिलेरी क्लिंटन की महत्वपूर्ण जीत राज्य के रूढ़िवादी मतदाताओं का भारी समर्थन

वाशिंगटन:अमेरिका में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की दौड़ में शामिल डेमोक्रेटिक पार्टी हिलेरी क्लिंटन और रिपब्लिकन पार्टी नेता डोनाल्ड ट्रम्प ने राज्य एरिजोना में सफलता हासिल की है। दक्षिण पूर्वी राज्य एरिजोना में आव्रजन(Immigration) बड़ा मुद्दा रहा है और इस हैसियत से ट्रम्प के लिए यह अभियान आसान रहा।

आव्रजन के संबंध डोनाल्ड ट्रम्प का रुख बहुत स्पष्ट है और वह उसके सख्त विरोधी हैं। मतदान से यह बात पूरी तरह स्पष्ट है कि उनका यही संदेश राज्य के रूढ़िवादी मतदाताओं को पसंद आया। दूसरी ओर एरिजोना में लैटिन निवासियों यानी मेक्सिको और अन्य पड़ोसी देशों से आने वाले लोगों की संख्या भी काफी बढ़ रही है और इसी अल्पसंख्यक समुदाय के वोटों से हिलेरी क्लिंटन की जीत सुनिश्चित हुई, लेकिन डेमोक्रेटिक पार्टी में हिलेरी क्लिंटन प्रतियोगी उम्मीदवार बर्नी सैंडर्स आयडहो और यूटा जैसी छोटे राज्यों में अच्छी सफलता प्राप्त करने के कारण अभी भी उनके सामने एक बड़ी चुनौती बने हुए हैं।

सिय‌टल में जीत के बाद अपने संबोधन में हिलेरी क्लिंटन ने मंगलवार को बरोसल्स में हुए आतंकवादी हमलों पर भी बात की और इस बारे में अपने रिपब्लिकन उम्मीदवार के बयान की कड़ी आलोचना की। इससे पहले मंगलवार को ही डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर अपने इस रुख को दोहराया था कि उनकी योजना है कि वह अमेरिका में मुसलमानों के आगमन पर प्रतिबंध लगा देंगे और कहा कि संदिग्ध आतंकवादियों को चोट पहुंचाना चाहए.हलारी क्लिंटन ने कहा था कि ‘हम जटिल और बहुत कांटों से भरा दुनिया में रहते हैं और हमें एक ऐसा कमांडर एंड‌ चीफ चाहिए जो हमें एक मजबूत नेतृत्व प्रदान कर सके, जो समझदार हो और इन खतरों से निपटने में दृढ़ रहे।

उन्होंने ट्रम्प द्वारा इशारा करते हुए कहा, “हमें ऐसे नेता की जरूरत नहीं है जो अधिक भय पैदा करे। एरिजोना में सफलतापूर्वक ट्रम्प पूरे 58 प्रतिनिधियों का समर्थन मिला जिससे उनका स्टैंड पहले से अधिक बेहतर होगया| रिपब्लिकन पार्टी नेता और उनके प्रतियोगी उम्मीदवार पूरी कोशिश कर रहे हैं कि उन्हें किसी तरह रोका जा सके लेकिन उनकी जीत का सिलसिला अब तक जारी है।

TOPPOPULARRECENT