Saturday , July 21 2018

ट्रम्प की मुनाफ़िरत और शर-अंगेज़ी शर्मनाक और ख़तरनाक:हिल्लेरी

वाशिंगटन 07 जनवरी: अमेरिका की साबिक़ वज़ीरे ख़ारजा हिल्लेरी क्लिंटन ने इस बात पर तशवीश का इज़हार किया कि मुसलमानों के ख़िलाफ़ मुनाफ़िरत का इज़हार रिपब्लिकन सदारती उम्मीदवारों की तरफ से किया जा रहा है जो यक़ीनन नाक़ाबिल-ए-क़बूल है जबकि आलमी सतह पर दहश्तगर्दी से निमटने के लिए एहसास इत्तिहाद होना बेहद ज़रूरी है।

इत्तिहाद में जो ताक़त है इस का तसव्वुर भी नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि दहश्तगरदों के ख़िलाफ़ लड़ने के लिए हमारा एक मक़सद और इत्तिहाद होना चाहीए। मुंतशिर हो कर और बग़ैर कोई मक़सद के कोई जंग नहीं जीती जा सकती। मुसलमानों के ख़िलाफ़ नफ़रत अंगेज़ी और शरपसंदी के बारे में वो जो कुछ सुन रही हैं, वो ना सिर्फ शर्मनाक बल्कि ख़तरनाक भी है।

2016 को आए अभी सिर्फ छः दिन हुए हैं और इस नए साल के अपने पहले इंटरव्यू के दौरान 68 साला हिल्लेरी ने रास्त तौर पर रिपब्लिकन सदारती उम्मीदवार ट्रम्प का नाम लेने से गुरेज़ किया, हालाँकि पिछ्ले कुछ दिनों से डोनाल्ड ट्रम्प मुसलसिल बिल क्लिंटन और हिल्लेरी क्लिंटन के ख़िलाफ़ ज़हर अफ़्शानी करते रहे हैं।

मुस्लमान हूँ, मैक्सीकन हूँ, ख़वातीन हूँ या फिर माज़ूर अफ़राद हूँ, किसी के ख़िलाफ़ नफ़रतअंगेज़ और तौहीन आमेज़ रिमार्कस करने से कोई फ़ायदा नहीं और एसा करना कोई कामयाब क़ियादत की अलामत नहीं।

TOPPOPULARRECENT