Monday , December 11 2017

ट्रम्प- मोदी की हुई बात, कहा- ‘चुनौतियों का सामना करने में मिला भारत का साथ’

वॉशिंगटन। हाल ही में अमेरिका के नए राष्ट्रपति बने डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति पद की शपथ ली है। ट्रंप ने ये शपथ 4 दिन पहले ही अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के रूप में ली है। चार देशों के राष्ट्राध्यक्षों से बात करने के बाद मंगलवार देर रात डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है। इसस बात की पुष्टि खुद व्हाइट हाउस के प्रेस सेक्रेटरी सीन स्पाइसर ने की है।

इस तरह पीएम मोदी ऐसे पांचवें नेता बन गए हैं, जिनसे शपथ लेने के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बात की है। इसी साल के अंत तक डोनाल्ड ट्रंप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिलने का न्योता भी भेज सकते हैं। फोन पर की गई बात में डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को एक सच्चा दोस्त कहा है और साथ ही यह भी कहा है कि भारत दुनियाभर में चुनौतियों से लड़ने में एक अच्छा पार्टनर भी रहा है।

इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप ने 20 जनवरी को अमेरिका के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद 21 जनवरी को कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीतो से बात की थी। इसके बाद 22 जनवरी रविवार को डोनाल्ड ट्रंप ने इजराइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू से बात की और फिर 23 जनवरी सोमवार को उन्होंने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी से बात की। इन चार देशों के राष्ट्राध्यक्षों से बात करने के बाद मंगलवार को डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी से बात की है।

डोनाल्ड ट्रंप की तरफ से भारत फोन करके पीएम मोदी से बात किए जाने से यह भी अनुमान लगाए जा रहे हैं कि इससे दोनों देशों के बीच संबंधों में मजबूती आएगी। दोनों ने दक्षिण और मध्य एशिया में सुरक्षा पर भी बात की और इस बात पर सहमति जताई है कि दोनों देश आतंकवाद से कंधे से कंधा मिलाकर लड़ेंगे।

यहां खास बात यह है कि ट्रंप ने मॉस्को, पेइचिंग, टोक्यो या अन्य किसी यूरोपियन देश से अधिक प्राथमिकता नई दिल्ली को दी है। आपको बता दें कि ट्रंप 8 नवंबर को अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में जीते थे, जिससे सभी हैरत में पड़ गए थे।

TOPPOPULARRECENT